पृष्ठ:अर्थशास्त्र शब्दावली.pdf/२०७

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है
(२)

1 [३] (८) हिन्दी में अर्थशास्त्र और राजनीति साहित्य -(भारतीय ग्रंथमाला, वृन्दावन) | (९) धन की उत्पत्ति (लाला रामनारायण लाल, प्रयाग) (१०) अर्थशास्त्र की रूप-रेखा (साहित्य निकेतन, दारागज, प्रयाग) ६) (११) सरल अर्थशास्त्र (लाल रामनागयन लाल प्रयाग) ३) (१२) ग्राम्य अर्थशास्त्र (१३) भारत का आर्थिक भूगोल २) (१०) ग्राम सुधार (कृषि कार्यालय, जौनपुर) ३) (१५) सरल राजस्व (साहित्य निकेतन, दारागंज, प्रयाग) 9 हिन्दी में अर्थशास्त्र सम्बन्धी साहित्य की कितनी कमी है, यह किसी साहित्य प्रेमी सजन से छिपा नहीं है। देश उत्थान के लिए इस साहित्य की शीघ्र वृद्धि होना अत्यन्त आवश्यक है। प्रत्येक देश- प्रेमी तथा हिन्दी प्रेमी सबन से हमारी प्रार्थना है कि यह अर्थशास्त्र की पुस्तकों के प्रचार करने में हम लोगों को सहायता देने की कृपा करें। जिन महाशयों ने इस विषय पर कोई लेख या पुस्तक परिषद् द्वारा स्वीकृत होने पर समादन समिति द्वारा बिना मूल्य सम्पादित की जाती है । आर्थिक कठिनाइयों के कारण परिषद् अभी तक कोई पुस्तक प्रकाशित नहीं कर पायी है, परन्तु वह प्रत्येक लेख या पुस्तक को सुयोग्य प्रकाशक द्वारा प्रकाशित कराने का पूर्ण प्रयत्न करती है। जो सजन अर्थशास्त्र सम्बन्धी किसी भी विषय पर लेख या पुस्तक लिखने में किसी प्रकार की सहायता चाहते हों, वे नीचे लिखे पते से पत्रव्यवहार करें। श्री दुनिवास, दारागंज, प्रयाग दयाशङ्कर दुवे, एम० ए० 1 }