पृष्ठ:कोड स्वराज.pdf/१४३

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।


कोड स्वराज पर नोट

ध्यान पिछले रिपोर्ट (retrospective reporting) को तैयार करने के बजाय भविष्य में संभावित अनुमोदन (prospective approval) को आर भटक गया था।

मैंने एक सुलह का प्रस्ताव रखा जिसमें इस समझौते को एक जगह पर समाप्त कर हमें अपने-अपने रास्ते चला जाना प्रस्तावित था। हमारे पास जो भी पैसा बचा है, मैं उसे अपने पास रक्खूगा और हम यह रिपोर्ट करेंगे कि हमने 2,50,000 डॉलर कैसे खर्च किया है, और अनुदान समाप्त कर दिया जाएगा। वे अनुदान की शेष रकम 6,50,000 डॉलर अपने पास रक्खेंगे। सीधे तौर पर कहा जाय तो यह बेहतर संबंध नहीं था। संस्थान को ऐसे बड़े आयोजकों में निवेश करना चाहिये जिनके पास स्थिर राजस्व और अधिकारियों के लिए व्यावसायिक विकास की स्थायी योजना हो।

फाउन्डेशन से निपटना, लाभ-निरपेक्ष क्षेत्र में काम करने वाले हमारे जैसे लोगों के लिए हमेशा मुश्किल रहा है। मैंने अपने साथियों के साथ कई बार बातचीत की है, जो संचालन-उन्मुख (आपरेशन ओरियन्टेड) इंटरनेट संगठन चलाते हैं। मिशन को आगे बढ़ाने के लिए धन की तलाश का काम अंतहीन है। कई फाउंडेशन अपने एजेंडा से संबंधित किसी भी चीज, या किसी बड़ी योजना में अनुदान देने को तत्पर रहते हैं। या संस्थान के प्रोग्राम मैनेजर द्वारा सोचे गए किसी वर्कशाप कराने में, या अपने इच्छा अनुसार किसी सॉफ्टवेयर बनवाने के लिए वे काफी आसानी से अनुदान दे देते हैं। लेकिन यदि आप इनमें से कुछ लोगों के पास जाते हैं और उन्हें बताते हैं कि आप पहले से ही कोई कार्य कर रहे हैं, तो वे कहते हैं कि “हम किसी नए काम के लिए अनुदान देना चाहते हैं, पहले से चल रही किसी परियोजना को नहीं।”

जब कि हर कोई किसी “नए” व्यवसाय में शामिल होना चाहता है, तो ऐसी स्थिति में एक विशिष्ट और कठिन लक्ष्य पर दीर्घकालिक तौर पर ध्यान केंद्रित रखना कठिन हो जाता है। यह न केवल लाभ-निरपेक्ष संस्थाओं के लिए समस्या है, बल्कि सिलिकॉन वैली में मेरे । दोस्तों के लिये भी है जो अपने स्टार्टअप पर काम कर रहे हैं। उन्हें भी निवेशकों के साथ ऐसी ही समस्या का सामना करना पड़ता है, जिन्हें उनकी कंपनी के काम में लगे लोगों के लिए फंडिंग देने के बजाय, उस कम्पनी को किसी नये आइडिया के प्रयोगशाला के रूप में काम कराना चाहते हैं। वे सभी, पहले से काम कर रहे परिश्रमी घोड़े जैसे स्टार्टअप में निवेश करने के बजाय, एकसिंह वाले घोड़े जैसे नए स्टार्टअप में निवेश करना चाहते हैं। इसमें ‘पब्लिक रिसोर्स’ भाग्यशाली रही है। हमें अपना पैसा दो जगहों से प्राप्त होता है। पहला, हमें पैसा यू.के. स्थित आर्केडिया, लिसबेट रौसिंग और पीटर बाल्डविन जैसी दूरदर्शी संस्थानों से कई सालों तक मिला। हमें ओमिड्यार नेटवर्क से प्रारंभिक अनुदान मिला जब गूगल ने अपनी 10वीं वर्षगांठ मनाई, तो उन्होंने “ विश्व को बदलने के उपायों (ideas for changing the world)” के लिए 20 लाख डॉलर के पांच पुरुस्कार दिए, जिसमें से एक पुरस्कार हमें मिला।

वित्तपोषण (फन्डिंग) का दूसरे स्रोत वे लोग हैं जो वैली में कुछ पैसे कमाये हैं और वे समाज को वापस देना चाहते हैं, जिनमें से कई लोगों को मैं कई सालों से जानता हूँ। उदाहरण के लिए, अलेक्जेंडर मैकिलिवेरे गूगल के प्रारंभिक वकील थे, फिर ट्विटर के जनरल काउंसल

135