पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/११६

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
चाँदी की डिबिया
[ अड़्क १
 

यह डिबिया थी उसमें तुमने झाड़ू लगाई, तुम कमरे में अकेली थीं। डिबिया यहां तुम्हारे घर में रखी हुई है। फिर भी तुम कहती हो मैंने नहीं लिया?

मिसेज़ जोन्स

जी हाँ। जो चीज़ नहीं ली, उसे कैसे कह दूँ कि ली है।

स्नो

तब वह डिबिया यहाँ कैसे आ गई?

मिसेज़ जोन्स

मैं इस विषय में कुछ न कहना ही उचित समझती हूँ।

स्नो

यह तुम्हारे पति हैं?

मिसेज़ जोन्स

जी हाँ, यह मेरे पति हैं।

१०८