पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/२१४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
चांदी की डिबिया
[ अड़्क ३
 

मैजिस्ट्रेट

[ गर्दन आगे बढ़ाकर ]

तुमने इसे चुराया नहीं? तुमने इसे सिर्फ़ ले लिया? क्या तुम्हारी थी? यह चोरी नहीं तो और है क्या?

जोन्स

मैंने इसे ले लिया।

मैजिस्ट्रेट

तुमने इसे ले लिया! तुम इसे उनके घर से अपने घर ले गए---

जोन्स

[ ग़ुस्से से बात काट कर ]

मेरे कोई घर नहीं है।

मैजिस्ट्रेट

अच्छी बात है। देखें नवयुवक मिस्टर बार्थिविक तुम्हारे बयान के बारे में क्या कहते हैं?

२०६