पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/९०

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


चाँदी की डिबिया [ अङ्क १५ खैर-धन्यवाद । मेरे जी में पाया 'कुछ तुम्हारा हाल चाल पूँछु । अव मैं तुम्हें और न रोकूगा । मिसेज़ जोन्स आप को धन्यवाद देती हूं, हुजूर । -- बार्थिविक अच्छा गुडमार्निङ्ग! मिसेज़ जोन्स गुडमार्निङ्ग हुजूर, गुडमानिङ्ग बीवी । बार्थिविक [ अपनी पत्नी से आंखें मिलाकर..] जरा सुन लो मिसेज जोन्स, मैं समझता हूँ तुमको बतला देना उचित है, एक चाँदी की सिगरेट की डिबिया गायब हो गई है। ८२