पृष्ठ:जनमेजय का नागयज्ञ.djvu/९

विकिस्रोत से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
यह पृष्ठ प्रमाणित है।
[ २ ]

स्त्रियाँ

वपुष्टमा―जनमेजय की रानी

मनसा―ज त्कारु की स्त्री और वासुकि की बहन

सरमा―कुकुर वंश की यादवी

मणिमाला―तक्षक की कन्या

दामिनी―वेद की पत्नी

शीला―सोमश्रवा की पत्नी

दासियाँ और परिचारिकाएँ आदि।