पृष्ठ:प्रताप पीयूष.djvu/४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ प्रमाणित हो गया।


(२)

पृष्ठ

२. किस पर्व में किसकी बनि आती है.........१०४

३. किस पर्व में किस पर आफत आती है....१०६

४. ककाराष्टक............१०८

५. मुक्ति के भागी............११०

६. होली है............११२

विभिन्न ............१२३-१६७

१. मतवादी अवश्य नर्क जायेंगे........१२३

२. 'ब्राह्मण' के उद्देश्य........१२९

३. 'ब्राह्मण' की अंतिम विदा........१३२

४. शिवमूर्ति.............१३३

५. सोने का डंडा और पौंडा........१४७

६. पंच-परमेश्वर........१५०

७. स्वतंत्र............१५७

कविता

सामयिक .............१७१-१८२

१. स्वामी दयानन्द की मृत्यु पर शोक-प्रकाशन....१७१

२. भारतेंदु हरिश्चन्द्र के स्वास्थ्य-लाभ के उपलक्ष में .......१७२

३. चार्ल्स ब्रैडला की मृत्यु परप........१७५

४. होली है अथवा होरी है........१७७

परिहासपूर्ण तथा व्यंगपूर्ण.........१८५-१९३

१. 'विवादी बढ़े हैं यहाँ कैसे कैसे'........१८५