पृष्ठ:राबिन्सन-क्रूसो.djvu/३०७

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है
२८४
राबिन्सन क्रूसो ।

२८४ राबिन्सन क्रस । उन्होंने अँगरज़ों से पूछा, तुम लोग इन स्त्रियों को लेकर क्या करोगे ? दासी बना कर रक्खोगे या पत्नी १. अँगरेज़हम लोग उनसे दोनों ही काम लेंगे। वे हमारी दासी भी होगी और पत्नी भी । स्पेनियर्डसरदार ‘अच्छी बात है, मैं इस विषय में तुम्हें कोई बाधा न डंगा । तुम जो अच्छा समझोकरो। किन्तु मुझे यह व्यवस्था कर देनी चाहिए जिसमें तुम लोग आपस में किसी तरह की तकरार न करो। इसलिए तुम लोगों से मेरा एक अनुरोध है कि तुम लोग एक स्त्री से अधिक ग्रहण न करो । दारपरिग्रह के अनन्तर तुम सब आपस में मिल जुल कर रहे । कोई किसी के अधिकार पर हस्तक्षेप न करे । सब अपनी अपनी स्त्री का भरणपोषण करें |’ इन प्रस्तावों पर अँगरेज़ सहज ही में सम्मत हो गये । उन्होंने स्पेनियों से पूछा- -“क्या तुम लोगों में कोई ब्याह करना चाहता है १२' उन सब ने एक साथ इस प्रस्ताव को अस्खीकार कर के अपने आत्मनिग्रह और धर्मनिष्ठा का परिचय दिया । उनमें कितने ही यह कह करकि देश में हमारी स्त्री और बाल बच्चे हैं, पुनर्विवाह करने पर स्वीकृत न हुए । किसी किसी ने असभ्य जाति की स्त्रियों से ब्याह करना पसन्द न किया । अँगरेज़ों ने विवाहित होकर अपना नया घर बसाया । स्पेनियर्ड लोग और प्राइडे का पिता मेरे ही पुराने घर में रहते थे । उन लोगों ने गुफा के भीतरी हिस्से को खोद कर ब लम्बा-चौड़ा क्लर लिया था। इसके पूर्व उन लोगों ने असभ्यर्थी के पारस्परिक युद्ध के समय जिन तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया था, उन पर किसो तरह का अत्याचारन कर के उनसे