पृष्ठ:संस्कृत-हिन्दी कोश.pdf/४७५

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
पृष्ठ को जाँचते समय कोई परेशानी उत्पन्न हुई।


रसुव परमा, हमा. धोकाला, पानामा, -मेष, मनु २५ प्रया- (0) - चेतावनी देना -८५४ोग रकना, महाना मबार करना, हर फैरना, फतरामा-मायादिषिमेष- काला-- मिलमपरिएड .पू. ११.१२.५... पकमि -4०६१. (4) गोमं पकना,-चु. खिर पूलम्पसमातिन् - सितारे १.२५2 पाटेना, त्याच्यामपरला (कका कर्म को लिए रखा, निग का-काप प्रवानिष्टा स्वापि न परिकह मुसनमाम रा-रहात मा मीनापदिए। -4ग. १०२. - 4 ह बनाना, निस्तेज करना. - 1करता, पिताशोजना, माना परास्त कला. पणभूमि में पर देना-रषः ॥१. देका, नग वेनामा भर " 5. 4 विपरने मारा देना, वापिस बनाना. tite. अदिमवस्पानिगन बगार -बार. माना, पुकारला, व्यनिष्कासे वर्मात 61141 रनु ।५४५ मा ११० नमोल पि. १८ गिषा नाम मेना, टिकाना. असा कसा, मन्यस्त करना मिना पुराना -मिमा परापर प माग -महिमग्नः. जगन देना, शिक्षा -म- Y1 बौना. गर्व में करना उन्मेन्हाव- देश'.st रणा, निग्नित माना . १२०६८ मगुरो परिकांत-ri rहाना काना. 5 ला, मार होने वाली बात बजना, डोग रमा-महायोग २०११. गण- 1 ला रोष भ-पतला पन (ना, बाधित करना. पेना, अपिणन काना. संगना --नदि . मन सा-प्रवचोरियनम् -3 वा. पारासर मामा ना, निगा ना, शिक्षा चायना १.sav+ नहि देना पदेन , मंन्श ना किन तम दुधना- -मकि हाल नहाना बलकाला Nameममापि मोटा -मा.वि. १५६ मरमुरंभ- या मन, ६.मनप भेजना सन्देश मापना व उन एपरा, नियमला, माघन्यता ना, नि विमां गौरी नन्दा सिपा--! संग-गरमूहिक-मालहिला) (दिपनि ददारपवन पाग--निवप् | समस्त माम-मा. ५.५५, पनगरांप पम्बित Phuk:---! 1,AAS नार 1134नखाना. उपदंशन पाना नहर निवगिगतपिवन-to ग. Erfi का अन्न का मा Sister ... । जापन कला, गदेष देने', निभाना सृषमप- धनेमालो ग मुला पत्र पर गित सामर्थपतालम-गपिस्तु विदरते गरम्प १५६ पास ५. 'सूर का संबन गि. रित निमारमा रेस्रा का। 11. T-2 गमेत करना. धाग मकेत पतिक नापारी सहक प्रपंसा, च मा. रामदिर-पः ८५३ जज राति , पाली में पठानिया 1.न.नापापापरना- मलित कामम-मण्डः 18+ निदिन सा.. गिय ट्रमना प्रसिदमीर नप- परम मित्र.-११ । नव. - सालिकरना, योकल ना, निश्चित करना-न न पात्रांगापिका-मनु" ५।१५२, रु. "पान + पेस का एक पर पिकांग. निरूप का माननं शपाच ११. मा. गुरुन, रह-राफेल का मा पम. काटने वन dि. 4. ग चना, दिखलाना एकेक नागनन् समान में त्वरिसोपस्व एदि शम्द। - सगुण निधन- मषित कर में पूर्व दिग नपा मगम पनाति मो एवं ना, दिया पूराग' म पर्गशालामन्यास कियाउदा. दिरम्प विमान हिमम, मान, नवंश करना, मौत 46 मल शिक्षक 4नवपरापी कग्य उपवंश देना किनावा कतिवरका तपाष पान 64100r. मगारार देना, 1 मला, नामः १. र. ३४. ५/०,१५८ जाणा- बारा काला दिवानः निपकर--स्पाविकार सिंगTTPान भाद-मारम 1 इसी दिषः अक्ष परा प्राधाप तु. ५/६९. 2 मी स्वान, मीम बनावत परपयों मलाया. मामा--मन- ८.५४पट्टि दिषः मन्य परेप, देश, मपर (firj दिषाए म५ देस, बोकार कान'. उपहार फेजापनान रोहका मात्र हो. -वियर कला-विजया न मुनित्ररिटयो. - लंन निषित पम्-५४२-21 नम दिल ilaj रन'