पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष एकविंश भाग.djvu/१२४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


११० नाश्यन्त नी, निर नर्ममंगोरा और निगमे गुल्म बना पर गनापाको महादेशक नृत्यों तार देने के लिये भारतीय मय परतों की अपेक्षा परेका र प्रदान किया। गणेश उस मुलाको यता कर महादेव यसा है। इसका भी मेला लोहा माहोता . पं.रण भीमा कोरडाया था । म पार दोगो मुल समश्यामयिनिष्ट गौर नारो छाया मा का प्रयास मेरा हो, गो मिट्टोमा पना होता रहता है। दोनों भोरपे नाम सून या गावी गीरी गागि मेरो प्रसन मुशाया। विशेषता होरोसे कसे रहते हैं। इसका एक हो मुसा दोगी रे .. नोकिए गृह गुल्मयोमित , मे! लकडो में ज्ञापा जाता है। इस यगाको मोगा मानेर गुला गरी गहना । म पगाफे दोनों मुदमे लेप रहना लिये वजागेयाले इसमें शियोफे पर लगा है। माने.' है। इस पर प.गमकोर्सनादिमें प्यार होतात याद माटी रासी पानी पांच लेने मोर गर्नमें दान कर पूर्वोन रोसिमे बनाया करते हैं। यह परत यो. साला भामुनि मुबार पहरणमा । यद | रमयों या पोपलक्ष्य हो शधिक पान होता है। पारा दो भागों में विमन है, एक भागका डांना मृदङ्ग बहाली इमेदार करते हैं। यह बहुत प्राचीन ना . जैमा दाउमा बना होता .मरा मिट्टी या तिमी धातु । कारण, मायणी युदफे समय पहो पा रहा का । लाटी भाग ददिना पासवाला गौर मिट्टोके । था। रामायण, इसका विस्तारित भायरे उल्लेप भागोनाया यागो पहने हैं। दोनों माग पर सरेम' पापा तासको ध्यागमस कशाती है। भादिको दगी हुई म्पादीकी गाल शिया सो सरह) नोटा जमा कर निकने पत्थरो चोटी जाना है। दादिनसे उग दानका माकार दोलकतो तरदका है। फिर मो . म भार वायसे गगीर गादार मिलता है। यह मार THREE TART स म . पाम फे. फोग जिमे पद कदम कम कर पांध दिया पर एकमगाना लेपाता मरी au जाता है। इस पो गौर फडके, पोयमें काट को गुलियां करगी मुनाकर दानेदात साल देने मोर यावें । दो शामी है। इस गुलिपी समापनासे ताले दारसे पर माटी लकीसे पता है। पर हाल पर शायतानुसार प्रदाने या उमारत है। गो। गा। वियाहारि सम स्पयन किया जाता है। कुछ मावा कमी मी अफैला ही बताया जाता है. पर दोगांका गनुमा कि यह हालही मादि तरला कमी भी नहीं। दोस माण टोलक. प परिता दुगा है। लामेर शरीक ना होता है। दोनों मुरा मागदापा राहगा। नमाग म का कामी मेला लहकीका होतोमा । .. पामा पायांमको गोल कमापा दम र कदी मु गता। पर भी विने माग उपेने किया मागो गामे मारा होकर टोक मोशा बहुत भीड़ा को वोरो का मेर कितीमो मानने माग माछापा दुमा में सो गांधकर गोमामा देने हैं। ये वापर दोनो गौर रोमगार काम है। इस रोग मोद पापोरवाला दिया परमारमा । म EMERI AE मार पायदाणसाद fre गरकाशो होता IT ar माग दिया नहीं जाना.ORATRamxm.

पं. गायटी

TA HAIसोनारदमा गह में XI . HERE ARRETIRinा माग TATVinा गाना मेदिनी समान गिलोकाना है गर्मियों मोबा भARE मोर, गरोसmamta