पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष एकविंश भाग.djvu/३१६

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


विकिरण-विकुएर {पको 'रगुपतिक पक्षो विदिया। २ का, विकीर्ण ( स० वि० बिकोल तिमि फम। यहाँने इनि यिम क । पूनाकारमे १ पिक्षिम, गारों मोर फैला या निराशा शिरमारणा पाय अनादि, याद राशन पागल मित, मगह। (को०१३ प्रतिदिन सोपा ममय पिम आदि दूर करने के लिये मारी, मरफ इशारण दोनेाला एक प्रकारको . मोर फेंका जाता है। पूजा ममय जिससे भूत मादि ! यिकांक (म० सी० ) विकोण-कन्। ! Hindi विजयाचा पहिला न कर म., मनिपे मन्य पद : गठियन । (सि.) २ विशिम, घर उपा जिanा . ' कर पान मा भोर मा दोता है। इमोको पिरि भा। विकोणका ( ख) रिपपर्णमेर। नससारमै निक्षा किला (माया), चन्दन, विकीर्णफलक - ० पु. ) रकाश, लालक पर। मिari, मम्म, यां, पुमोर असत पे सय विकिरविकीर्णरोमन (सं० कोe) पिकोणागि रोमामा । बदलाते है, तथा भूगादि दारा होनेवाला यिनसमूह, स्पाने, एक प्रकारका सुगंधित पौधा . गा । (सन्धमार) विकीर्ण (संसो.) पिकणमिति संहा साप । ____ निम्पादिका पिएर । धारकालमें भग्निदग्धाफे स्थानेय, एक प्रकारका सुगंधित पौधा दशम सो निगड दिया जाता है उसको यितिर करमे विकुक्षि (सं० पु०) श्यापुरास फे ला . मात! है। विदिशा पिष्ट लिस प्रकार तर्फ पिस्तार : (ite )२कुशिहोम, सिमका पेट फूला या भागेको दाराना होता है. इस गम्निागिएस उस प्रकार निमा मादी, गौश्यामा। नहीं देना होता है, दमा कारण मा विधिर नाम विक्षिक (सं०नि०) कुतियोग, माश्याला। विकृत (मनि० ) कुश मिना मनमार EिLL ___जिन. याविधान वाहनादि संस्कार नहीं होरो विकुसरयानु (स.शि.) फुज, रपि मौरस्तुगिन. सपा शिमफे धाकरा कोई नहीं है उमफे उनसे यह भलरवि भोर साह मिग यार। विकिरगिएर देना दाता है। पिगट (म' शिकण्टादित, पायाला, एवं (10) ५ मलपिशेर । मी भारि पानी निकट या भुपराका ३८ । (पु० ) २ फुएल । वि । .. म सालुकामयों भूमि रहती है मौर उस भूमिको सोदनेमे ३पिगुको माना। म गिना उसे हो विकिर पड़ते हैं। पदमट गएठन (म.पु.ल.)। युष्ठाne, innars i, R3, निषि, लघु, सुपर (कसैला ). सादिष्ट ! पन्ना, मानोरी। पित्तनाशक मीर न करायक माना गया है। यण्टल (io ite) रहित, जिम मरो। सा, गिरना। विरमा मनोविशेष निम्दा। विहिरण (R ) हिमपुर। पोवन, प, पिग (20ge ) TRA, भोकापर। . . . उभा ।। २ बिगिन। ३ विमापन 11 T oमाए: (सं० ० ) पोमगाखांत प्रादेयता. . . ममदारका पिन (म ) ATARRE. TARA Africa (म पिध बागादि पAIT.पियांन (HR) कुलो ति REER ___ माग गए रमेगावा। माण। यिनिधाम. विति । R. पु. मान होंविवि . fo) पापम् । EिREATE प्र म । पर घास दो दणा९. . भाना, भगायोग परमा .... का होना पिti Terminine Pिatri नामद | (wita) . स. १४. उपाय TIME पामा। .. पड़ा है। .