पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष नवम भाग.djvu/३९३

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


ताड़िता 16 पाप एक घड़ी बनानेवाले कारोगर थे । तर अवस्था रेखा जैसे भी चिक भेजे जाते हैं, वे सब ज्योंके त्यों लेने हो पापने रम पडत वस्तुका आविष्कार किया था। वाली मशीन के नीचे एक पतला कागज रख देनेसे आपने पहले पहल १८७५ के मई मासमें इसका मुख्य उसमें भी अङ्कित हो जाते हैं। रमो प्रणालो पर हमलके सत्य रख कर कार्य प्रारम्भ किया था। पाविष्कारका भित्ति प्रतिष्ठित ___ इस समय आप अपने मातापितासे मिलने के लिये दोनो यन्त्र एक ही प्रणालोसे बने पोर तार हारा जर्मनी गये थे और वहां किसो मवादपत्र में एक समबोर । संयुक्त है। प्रत्येक यन्त्र में एक ए. cylinder है, जिसको देख कर आप इमके आविष्कार के सत्य उपनोत हो लम्बाई पाठ एञ्च है और घड़ौके पूर्ण के समान गये। उमके बाद १८८८ ई० जनवरा महोन में प्रापन एक प्रकारके यन्त्र ( Clock work )से, एका हो प्रकारसे 'Vew lok lleral' आफिममें हमको परोक्षा करनो घुमाया जा सकता है। प्रत्येक मिनगढ़रके अपर एक शुरू कर दो। उता कार्यालयके दो कमरे पापने अपने पतला प्राटोनामका काँटा ( StyIn a needle) है, लिये ग्वालो करा लिए, जिनमें से एक में टेनिग्राफ भेजने जिमका प्राकार टन्निग्राफको चाबाके अग्रभागके समान की मशीन - Transmitteer ) और दूममें टेलिग्राफ है। इसके सिवा समबोर उतारनेके लिए और भी कई सेनेको मशीन ( Receiver ) रख कर चित्रांक आदान चीजों की आवश्यकता होता है। जैसे-८ इस लम्बो प्रदानके विषय परीक्षा करने लगे। पहले पल आपने और ६ र चोड़ो एक पत्ती, तथा इसो नापका एक आफिसके चारों घोर पाठमोल लम्बा तार लगा कर ____Carbon manifold copying mper (पोष्ट पाफिस कार्य प्रारम्भ कर दिया और उसमें किन किन चोजों को आदिमें काम पानवाला निला कागज ) इत्यादि। कमी है, उसकी खोज करने लगे। अब भेजनको तरको लिखो जाती है। जिसकी इस प्रकारसे एक वर्ष खोज करने क बाद आपने तसबोर मेजनो हो, उभका फाटो परसे उस टोनको पत्ती इतनी उति कर लो कि सन् १८८८ में, १८ अप्रोम्मको पर उस को एक समबीर खौचनो चाहिये किन्तु तसवो. पापन New York Herald श्राफिससे (Chicago . रके चारों चोर एक एकरच स्थान वालो छोड़ देना Times flerald, The St. lones Retoulico, The चाहिये, कलम वा फँचोसे तसबोर खोंचन चाहिए, Boston llorald और The Philadelphia Inquirer परन्तु लेख्य-पदार्थ स्थाहीको अपेक्षा घना और non इन आफिसोंमें फोटो भेजे। एक ही समय में, एक हो conductor of electricity होना चाहिये। 'सुरसार' सार-हारा एक हो उक्त फोटो भाफिसों में पहुंचनेसे शीघ्र से पिघलाया इमा चपड़ामे स्याहोका काम लिया जा हो पापकी कोत्ति चारों ओर फैल गई। मकता है। आचार्य मोसने जो टेलिग्राफ चलाया है, उसमें उक्त पत्तोको, जिस पर चपड़े को स्याहोसे तसबोर विन्दु पोर रेखाका अनुवाद करना पड़ता है, किन्तु हुमेल खींचो गई है, सिलगडर पर लपेट कर प्रेरितव्य स्थान पर साहबने ऐमो तरकब निकालो कि उन्हों बिन्दु और सवाद भेजनके माथ हो वहां तमबोर तैयार हो जातो रेखामों के हारा वहां तसबीर खींच कर तैयार हो है उस ममय ग्रामक यन्त्रके सिलगहर पर दो कागज जाती है। चढ़े रहते हैं। (जिनमें एक 'कारबोन-पेपर होता है) टेलिग्राफमें जैसे पृथिवीको एक Conductor बना और उनके ऊपर काँटा तथा Stylus लगाया जाता है। कर सिर्फ एक तारसे एक ( Complete circuit ! जब दोनों स्टेशनोंका प्रवाह ( Current ) जोड़ा जाता पूर्ण वेष्टन बनाया जाता है, उसी प्रकार Telediagraph. हे और दोनों सिलगडर अपनो पपनो मगोनको सहायता म.भी एक स्थानसे बिन्दु और रेखा भेजी जाती है। से, ममभावसे घूमने लगते है तथा प्रेरक यन्त्रका कोटा यह पहले कानोंसे सुना जाता था। पोछे परोक्षा हारा जब पत्तीके चपडे के जपरसे जाता है, तव चपड़ाक चाविश्वातामा कि भेनमेवाली मधीमको जरिये बिन्दु वा nonconductor होनेसे ग्राहक यमाम वैातिक प्रवाहन Vol. Ix. 98