पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष नवम भाग.djvu/४४८

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


पाविष्कार हुआ है। काश्मोरमें जानकर नदोके मदी ३ अंश चाँदी निकलती है। यह चांदो एक टकई किनारे प्रति उत्कष्ट त बा मिलता है, जिममें थोड़ा ताँबे के साथ भली भांति मिश्रित रहती है और कौं अश चांदोका भी मिला रहता है। कौं तॉब के माथ चूर्ण वत् वा सूत्रवत् अवस्था में पायो तांबेका इतिहास - प्रति पुराकानसे हो साथा मनुष्यों जातो है। का परिचित हया है. यहां तक कि लोके आविष्कारमे पाकर ताममें नामा वर्ण व्यत्यय देखनेमे पाते पहले भो तविक शस्त्र प्राटि चमते थे। प्रादिम जाति हैं; ये हो ताँबे मल फारड अवस्थापन हैं। लोहे मे पहले हमका व्यवहार करतो यो, १। धूसर तोया (Grty sulphile of copper)- शायद यह होगा कि अन्यान्य धातुओं के खानमे निकाल सगडमें यह कनवाल नामक स्थानम' सर्वदा कर व्यवहारिक धाररूपमें प्रस्तुत करना पडता है, किन्त मिलता है। इसके लिए वह नियम नहीं, क्योंकि खानमे हो व्यवधा २। गमो ताँबा (purple copper,-ताँबा और रोपयोगो अवस्था में निकलता है । यह अत्यन्त प्राघातको फेरिक मन्नफाइड ( Cuprous and Frric sulphi- महनेवाला है और इनमे तार भी बनता है। des) विभिव अनुपातमे मिश्रित होने पर इस खनिजको रामकों को यह कारग्राम (माइपास । होपमे पहले उत्पत्ति होती है । यह तोन पकार का होता है, एकम पहन मिला था, इसन्निए इसको पहले 'कप्रियाम्' कहतं .फो मदो ७• भाग, दूमरेम भाग ओर तोमरेम फो थ क्रमशः बिगड़ते बिगड़ते उमोका कि उ-प्रा.: । कु-प्राम सदो ५६ भाग अमली तांबा रहता है । कनवान्न, सुइडेन था कपर) रूप हो गया है। ओर उत्तर-अम रिकाम यह बहुतायसे मिलता है। रखानम तांबा नाना प्रवस्थानों में मिलता है, जैसे ३ । पाइराइटिम वा पो ना तांबा ( Copper pyri. अक मारड, क्लोराड. कार्वनेट, फस्फेट, सानफेट, tes or yellow copper' )-इस श्रेणीका साँवा श्राम नेट, मिलि केट भानाडेट, सान फाइड और व्यवहा. अधिक मिलता है। इसमें फो सदो ३४४ साँवा रिक धातु। प्रश्नति के प्रायः सवत्र और मव पदार्थाम होता है। कनवाल, डिभनमार, सुडेन. किउवा होप. थोड़ा-बत तांबा है। ममुद्र के तृण आदिमें भी तबिक दक्षिण-अमेरिका और य नाइटेड स्टेटस में बहुत जगह अंश है, अतः यह मानना पड़ेगा कि भमुद्र के जन्नमें भी ऐसा ताबा मिलता है। कन वालको खानम हर साल सोबा है। उच्च श्रेणी के जोव-शरीरमें भो तांबा है। पाटा यह एक लाख पचास हजारसे ३० हजार टन तक उत्पव पूला, घाम, मांस, पगड़ा. पनोर आदि सभी चीजों में होता है इममे व्यवहारिक तौबा प्रायः १२ हजार टन ताया है। जव रक्तम भो तबिको मत्सा है, यवत् और बनता है। मुत्रयन्त्रमें सांबेको मत्ता शरोरके अचान्य अंशों की ४। फलर वा असलो भूरा तोबा ( Hahlore अपना व इत ज्यादा है। अपर जितने तरह के नौवां का or true gre OPPT ) -इसमें बहुतसा धातुएं वन किया है, उनमें सभी प्रकार के तांवों में व्यवहा । मिश्रित रहतो है, जिनमें प्रोटोसलकार साँबा (Proto- रिक सांबा नहीं मिलता। sulyhide of copper), भासनिक, रसाचन, जस्ता, खदानके भीतर पाकर नाम के साथ व्यवहारिको लोहा, चांदी बार पारा ही अधिक हैफी सदो २.मे ४८ तांबा सवदा हो मिलता है,-कहीं पतला, कहीं छोटे अंश विद्या ताबा निकलता है। पारा फी सदो से १५ छोटे नबोले ट कर के रूपमें और कहीं बड़ी बड़ी बेटी वश तक रहता है । चादो जिननो कम होता है, विशड (Fold lucks )के पामारमें मिलता है। अमेरिकाके तबिका परिमाण उतना हो ज्यादा होता है। गन्धक सुपिरियरदके किनारको खानमें व्यवहारिक धातु हो पोर रमाअनके मिश्रणसे पसको और भी एक श्रेषी अधिक पायो आतो है। यहां एक एक थानका वजन उत्पन होतो है, जिसको 'बुनाइट' (Sulphantino- ५०० टन तक होता है। उत्तर-अमेरिका में तांबसे फो nite of copper ) कहते हैं।