पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष पंचदश भाग.djvu/१२५

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


फोटोग्राफी-फोड़ना ११६ मनीषियोंने उद्भिदादिके ऊपर आलोकशक्तिके प्रभाव ओर करके रखा जाता है। इसके बाद लेंसका ढक्कन निर्णयमें भी वैसी ही चेष्टा की थी। खोल फोटोग्राफर दूसरी ओरके द्वारको खोल सिर पर रोटर और वालेष्टनके वाद १८०२ ईमें टोमस विज- काला कपड़ा, जिसमें काहीसे प्रकाशन आवे, डाल कर उच और सर हाम्म डेभीने फोटोग्राफी विद्याकी उन्नतिके देखता है कि उस वस्तुको प्रतिकृति ठीक दिखाई देती लिये अच्छी आलोचना की । रासायनिक प्रक्रियासे नाइ. है वा नहीं। इसे फोकस लेना कहते हैं। अनन्तर लेसके ट्रेट आफ सिलवरके प्रलेप द्वारा प्रस्तुत कागज, चम, सामनेका ढक्कन फिर वन्द कर दिया जाता है और दूसरी कांन वा पत्रादिके ऊपर ( sensitive surface ) सूर्या ओर लकड़ोके बद चौकटमै रफरखे हुए गसायनिक लोकसे आलोकित प्राकृतिक पदार्थोंका पूर्ण चित्र कमरा पदाथ मिश्रित प्लेटको बड़ी होशियारीसे, जिसमें प्रकाश अवस्किउरा और सौर अणुवीक्षण (solar microscope) उर्म स्पर्श न करने पाए, लगा देते हैं। फिर लेसके यन्त्रकी सहायतामे वे अडित करनेमें समर्थ हुए थे। मुंहको थोडी देर तकके लिये ग्वाल देते हैं जिसमें प्लेट चित्र तो खिंच गया पर स्थायी न हो सका। डगरने पर उम पदार्थकी छाया आंकत हा जाय। ढक्कन पुनः चित्रको पहले पोटास ब्रोमाइडमें डुबा डुबा कर देखा, पर बंद कर दिया जाता है और अंकित प्लेटके बड़ी साय- अन्तमें उन्हें हाइपो सल्फाइट सोडा द्वारा पूरी सफलता धानीसे वद चौखटेमे बंद करके रख देते हैं। इसके हुई। इसी समय एक अगरेजने गैलिक एसिड और बाद उम प्लेटका अँधेरी कोठरीमें ले जा कर लाल नाइट्रेट आफ सिलवरकी मददसे कागज पर चित्र छापने-. लालटेनके प्रकाश रासायनिक मिश्रणों में कई बार डुबाते का तरीका निकाल । क्रमशः वह विद्या उन्नति करती हैं। आखिर फिटकिरीके पानीमें डाल कर ठंढे पानी. गई और मन १८.५० ई०में प्लेट पर चित्र लिये जाने को धार उस पर गिराते हैं। ऐसा करनेसे प्लेट काले लगे। १८७२ ई०में डा० मैडाक्षने जेलेटीनको सहा- रंगका हो जाता है और उस पर पदार्थ अङ्कित दिखाई यतासे प्लेट बनानेकी प्रथा चलाई। वह प्रथा उत्तरोत्तर पड ने लगता है। अब उस पर रासायनिक पदार्थ लगे उन्नत हो कर अब तक प्रचलित है। अब आद्र प्लेटका हुए कागजके टुकडोको अंधेरा कोठरीके भीतर सटा बहुत कम व्यवहार होता है। प्रायः सब जगह शुष्क प्लेट · कर प्रकाश दिखाते और रासायनिक मिश्रणोंमें धोते काममें लाया जाता है। हैं। इस प्रकार कागज पर प्रतिकृति कित हो जाती ___ कमरा सन्दूकके आकारका होता है। इसके आगे- है। इसीको फोटो कहते हैं। की ओर बीचमें गोल लम्बा चोंगा सा निकला रहता है। फोड़ना ( हि० स्त्री० ) १ भग्न करना, खरो वस्तुओंको उस चोंगेमें एक गोल उन्नतोदर शीशा लगा रहता है। खडखड करना। २ संगमें न रहने देना, साथ इसी शीशेका नाम लेस है। दूसरी ओर एक शीशा छुड़ाना। ३ शरीरमें ऐसा विकार या दोष उत्पन्न करना और एक किवाड़ होता है । वह किवाड़ खटकेसे खुलता जिससे स्थान स्थान पर घाव या फोड़े हो जाय । ४ और बंद होता है। कमरेके बीचका भाग भाथीकी तरह केवल आघात या दबावसे भेद न करना, धक्केसे दरार होता है जिसे इच्छानुसार घटा बड़ा सकते हैं। लेसके : डाल कर उस पार निकल जाना। ५ पक्ष छुड़ाना, एक सामने एक ढक्कम होता है जिससे चोंगा ब'द किया पक्षसे अलग करके दूसरे पक्षमें कर लेना। ६ ऐसी जाता है। कमरेके गीतर अँधेरा रहता है और उसमें वस्तुओंको आघात और दबावसे विदीर्ण करना जिनके केवल लेसको भोरसे ही प्रकाश आता है। इसके सिवा अभ्यन्तर या तो पोला हो अथवा मुलायम या पतली प्रकाश आनेका और कोई रास्ता नहीं है। जिस वस्तु-. चीज भरी हो। ७ अवयव, जोड़ा या वृद्धिके रूपमें की प्रतिकृति लेनी होतो है वह सामने ऐसे स्थान पर . प्रकट करना, अकुर, कनस्त्रे, शाखा आदिका निकालना। होता है जहां उस पर सूर्यका प्रकाश अच्छी तरह पड़ता ८ शाखाके रूपमें अलग हो कर किसी सीधमें जाना हो। उसके सम्मुख कुछ दूर पर कमरेका मुंह उसकी गुप्त बात सहसा प्रकट कर देना, एकवारगो भेद बोलना।