पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष पंचदश भाग.djvu/३९४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


विछ्वना-बिजनौर जामा। २ किसी पदार्थका जमीन पर बिखेरा जाना, पेदेमें बहुमूल्य पदार्थीको सीड़ आदिसे बचानेके लिये छितराया जाना। ३ जमीन पर लिटाया या गिराया उनके नीचे अथवा उनको टक्कर आदिसे बचाने और जाना। उन्हें कसा रखने के लिये उनके बीचमें बिछाया जाता है। बिछवना (हि० क्रि० ) फिसलना देखो । बिजड़ (हिं० स्त्री० ) खड़ ग, तलवार। बिछलाना (हिं० कि० ) फिसलना देखो। विजनी (हि. स्त्री०) हिमालयकी एक जंगली जाति । बिछवाना (हि. कि० ) बिछानेका काम दुसरेसे कराना, इस जातिके लोग उस प्रदेशमें रहते हैं जहां ब्रह्मपुत्र नद दूसरेको विछाने में प्रवृत्त करना। हिमालयको काट कर तिब्बतसे भारतमें आता है। बिछाना (हि क्रि० ) १ जमीन पर उतनी दूर तक बिजनौर-युक्तप्रदेशके बरेली उपविभागका उत्तरीय पैलाना जितनी दूर तक फैल सके । २ जमीन पर जिला । यह अक्षा० २६१ से २६५८ उ० तथा देशा०७४ गिरा या लेटा देना। ३ किसी चीजको जमीन पर कुछ से ७८ ५७ पू०के मध्य विस्तृत है। भूपरिमाण १७६१ दूर तक फैला देना। वर्गमील है। हिमालय पर्वतके निम्न देशसे जो सड़क बिछावन (हि पु० ) बिछौना देखो । उत्तर-पूर्वकी ओर चली गई है, यह इस जिलेको गढ़वाल विछावना (हि० कि०) बिछाना देखो। जिलेसे पृथक् करती है । इसके दक्षिण-पूर्व और दक्षिणमें बिछिया (हिं. स्त्री० ) पैरकी उंगलियोंमें पहननेका एक नैनीताल तथा मुरादाबाद है। गङ्गा नदी जिलेके प्रकारका छल्ला। पश्चिम हो कर बह गई है। गङ्गाके तीरवत्ती स्थान छोड़ बिछुआ (हि पु० ) १ एक प्रकारका गहना जो पैरमें कर और प्रायः सभी स्थान पर्वतमण्डित है। हिमालय, पहना जाता है। २ एक छोटा-सा शस्त्र, एक प्रकारकी गढ़वाल और चण्डी नामक पर्वतमालाका अधित्यका छोटी टेढ़ी छुरी। ३ अगिया या भावर नामका पौधा । देश ले कर यह जिला संगठित है। गङ्गातोरवत्ती ४ सनकी मूली। स्थानोंमें खेती वारी होती है। बिछुड़न ( हि स्त्री० ) १ बिछुड़ने या अलग होनेका भाव । जिलेका कोई प्रकृत इतिहास नहीं मिलता। अयो- २ वियोग, जुदाई। ध्याके वजीर द्वारा विध्वस्त किये जानेके बाद यहां विछुड़ना ( हि पु० ) १ साथ रहनेवाले दो व्यक्तियोंका रोहिलोंका अधिकार रहा। ७वीं शताब्दीमें चीन-परिव्राजक एक दूसरेसे अलग होना, जुदा होना। २ प्रेमियोंका यूएनचुनंगने बिजनौरसे 8 कोस दूरवत्ती मन्दावर नगर- एक दूसरेसे अलग होना, वियोग होना। की समृद्धिका उल्लेख किया है। १११४ ई०में मुरारीसे बिछुरना (हि क्रि० ) बिछुड़ना देखो। अग्रवाल वनियेने आ कर मंदावर नगरका संस्कार किया बिछुरनि ( हि स्त्री० ) बिछुड़न देखो। और वे लोग वहीं बस गये। १४३० ई०में तैमुरने लाल विछुवा (हिं० पु०) बिछुआ देखो। धङ्गके निकट यहांके अधिवासियोंको परास्त किया। बिछोई (हिं० पु० ) १ वह जो बिछुड़ा हुआ हो, जिसका युद्ध-जयके बाद मुगलसेनाने यहां नादिरशाही जारी कर वियोग हुभा हो। २ जो विरहका दुःख सह रहा हो, दी थी, जिससे नगर बिलकुल जनहीन हो गया था। विरही। ___सम्राट अकबरशाहके राजत्वकालमें बिजनौर शम्मल बिछोड़ा (हि० पु०) १ विछुड़नेकी क्रिया या भाष, अलग सरकारके अधीन हुआ। मुगलशक्तिके अधःपतन पर होना। २ बिरह होना, प्रेमियोंका वियोग होना। रोहिलोंने भा कर उपनिवेश बसाया। रोहिला-सरदार बिछोह (हि.पु.) बियोग, जुदाई अली महम्मदने जबसे निकटवर्ती स्थानों पर मधिकार बिछौना (हि.पु.) १ वह कपड़ा जा सोनेके कामके जमाया तभीसे यह स्थान रोहिलखएडके मामले लिये बिछाया जाता हो, विछावन, बिस्तर । २ वह बजने लगा। अली महम्मदके दौरात्म्यसे उत्पीडित फालतू सामान और काठ कबाड़ आदि जो जहाजोंके हो अयोध्याके सूबेदारने महम्मद शाहको उनके