पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष पंचदश भाग.djvu/४०२

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


विरुवा-विलाई टिकिया जो इसलिये लगाई जाती है कि वर्खेकी मूडी वह रसीद जो रेलवे कम्पनीसे मिलती है। जहाँसे माल खूटेसे रगड़ न खाय । भेजा जाता है, रसीद वहीं पर मिलती है। पीछेसे विरु ( हिपु० ) एक प्रकारका राजहंस। माल पानेवालेके पास यह रसीद भेज दी जाती है। विरुमामा ( हि० कि०) उलझना, झगड़ना। विलधावन (स० वि०) योनिकपाट-प्रक्षालन । बिरोजा (हिं० पु०) गन्धबिरोजा देखो। बिलनी (हिं० स्त्री०) काली भौंरी । यह अपने रहने के बिरोधना (हि.कि०) बिरोध करना. बैर करना। लिये दीवारों या किवाड़ों पर मट्टीको बांबी बनाती है। बिलंगी (हिंस्त्री०) अलगनी. अरगनी। यह वही भृङ्गो है जिसके विषयमें यह प्रसिद्ध है, कि बिलब ( फा० पु.) १ ऊंचा। २ बड़ा। ३ जो विफल वह किसो कोडे को पकड़ कर भृङ्गी ही बना डालती है। हो गया हो। २ आँखकी पलक पर होनेवाली एक छोटी फुसी, बिल (सं० क्लो० ) १ छिद्र, सुराख । २ गुहा, कंदरा। गुहांजनी। (पु०) ३ उच्चैःश्रवा अश्व । ४ बेतस, बेंत। बिलफेल ( अ० क्रि० वि०) सम्प्रति, अभी। बिल ( हि पु० ) १ जमीन के अंदर खोद कर बनाया बिलविलाना ( हि० कि०) १ छोटे कीड़े का इधर उधर हुआ कुछ जंगली जीवोंके रहनेका म्धान । ( पु०) रेंगना। २ असम्बद्ध प्रलाप करना। ३ व्याकुल हो २ पावनेके हिसाबका परचा, पुरजा, बिलमें प्रायः बेची । बकना । ३ भूखसे बेचैन हो उठना। ४ कष्टके कारण या दी हुई चीजोंके तिथि सहित नाम और दाम, किसीके ज्याकुल हो कर रोना, चिल्लाना । लिये व्यय किये हुए धनका विवरण अथवा किसीके लिये विलमना (हि. क्रि०) १ बिलंब करना, देर करना । ३ ठहर किये हुए कार्य वा सेवा आदिका विवरण और उसके जाना, रुकना। पुरस्कारको रकमका उल्लेख होता है । इसके उप- बिलमाना (हि. क्रि०) १ अटका रखना, रोक रखना। स्थित करने पर वाजिब पावना चुकाया जाता है । ३ १२ बिललाना (हि० कि०) १ विलाप करना, बिलख कर रोना । किसी कानून आदिका वह मसौदा जो कानून बनाने २ ब्याकुल हो कर असम्बद्ध वातें कहना। वाली सभामें उपस्थित किया जाय । बिलवाना (हिं० क्रि० ) १ नष्ट करना, बरवाद करना । २ विलकारिन् (सं० पु०) बिल करोतीति-कृ-णिनि । १ मूषक, किसी वस्तुको दूसरेके द्वारा नष्ट कराना, बरबाद करामा। चूहा। (नि०) २ गत्त कारक, विवर बनानेवाला। ऐसे स्थानमें रखवाना या रखना जहां कोई देख न सके, बिलकुल ( अ० क्रि० वि० ) १ पूरा पूरा, सब । २ सिरसे पैर तक, आदिसे अन्त तक । छिपाना अथवा छिपानेके काममें दूसरेको प्रवृत्त करना । बिलखना (हि क्रि०) १ बिलाप करना. रोना। २ विलवास ( स०पु०) बिले वासोऽस्य । जाहक जन्तु । दुःखी होना। बिलवासिन् ( स० पु०) विले वसति बस-णिनि। १ बिलखामा ( हि० क्रि० ) १ रुलाना । २ दुःखी करना। सर्प, सांप। (त्रि०) २ गतवासी, बिल में रहनेवाला। विलग ( हिं० वि०) १ पृथक, अलग। पु०) पार्थक्य, बिलशय (स० पु० विले शेने इति शी अच् । १ सप, सांग। अलग होनेका भाव । ३ द्वष या और कोई बुराभाव, (त्रि.) २ विलवासी, विलमें रहनेवाला। रंज । बिलशयिन् ( स० पु०) विल-शी-णिनि। बिलशय । बिलगानां (हिं० क्रि०) १ पृथक होना, अलग होना। २ बिलस्त (हिं० पु० ) बालिश्त देखो। पृथक करना, अलग करना। बिलहरा (हिं पु० ) वांसकी तीलियों या खस आदिका बिलगी (हिं० पु. ) एक प्रकारका संकर राग। : बना हुआ एक प्रकारका संपुट। इसमें पामके लगे हुए बिलच्छन (हिं० वि० ) विलक्षण देखो। बीड़े रखे जाते हैं। बिलछना (हिं० क्रि०) लक्ष करना, ताड़ना। बिला (अ० व्य० ) बिना, बगैर । बिलटी (स्त्री० ) रेलके शरा भेजे जानेवाले मालकी | बिलाई (हिं० सी० ) १ बिल्ली, विलायो । . २ कोई या