पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष विंशति भाग.djvu/२४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


रोमसाम्राज्य नामसे प्रसिद्ध हुए। ये दोनों वालक उस गडरिके सीमा निदिष्ट हुआ। हरचिहसे चिहित इस नगरका पनौके साथ पलने लगे। इन गहरियों के साथ यूमीटर ' नाम हुमा "पमेरियम"। क गरिपाका झगड़ा हो गया। इस समय कौशरसे। पेगटादा पवत शिप्रा आदिम रोम नगरका माको उमप पितामह न्यूमीटरके समीप उपस्थित कर नाम मा "रोमा कोयडेर" या चौकोन राम। पिछले दिया गया। किशोरायस्क रेमशका देख कर यूमोटर समयम इम नगरकी परिधि मात पर्वतोंके शियरों का हदय वात्सल्य प्रेमसे परिपूरित हो गया । उम्र मौर पर फैली थी। जे हो, सादिम रोम नगर इसासे चेहरा देख कर यूमाटरो रेमाशको अपना नाता होनेको १३ घर्ष पूध २१यो अप्रेलको प्रतिष्ठित हुआ। इसके मन्देह हुआ। अतर्म उनकी जान कथा सुन कर वाद रोमुलास रोमपे चारो ओर चहारदीवारा उठाने उनको विश्वास हो गया, कि यह निश्चय ही मेरा दौहिल लगा। यह चहारदीवारी बात छोटी थी। इस पर (माती)। अन्तर्म रोमुलस भी अपने पालक पिता इसी उदा हुप रेमासने कहा-"इस तरहको बार को पानी उस मेविहारके साथ न्यूमीठा के सम्मुख उपस्थित चित चह रदीवागसे कोइ लाम मही ।" यद वह हुमा। । रेमास कृद कर एक ही उलागर्म चहारदीवारीको पार ___ ग्यूमोटर दोनों नातियोको पा र पुरा हुमा यौर कर गया । इस तरह रेमासको चहारदीवारी उन दोा कुमानि अपन भाईके रिय हुए निष्ठुर आच लाधन देख रामुलाम फोघस अधोर हो उठा और , रणका बदला चुकानेको स-प कर लिया। उन्होंने उमन रेमासको प्राण दण्डकी भाशा दी और यह हुपम अपने विश्वासपार कर्मचारियोके माहापसे आमु जारी किया कि थाजसे जो इस चहारदीवारीको लिदासको मार डाला और अपन, पितामह न्यूमोटरको लायेगा उसे प्राण दएड दिया जायेगा। उसको गद्दी पर बैठाया। जो हो मुनासो वसापे इस चहारदीवारीमे रामुलास भोर रेमासने अपने पहलेके घामम्यान घिरा रोम नगरम अधिक आदमी नही बसे। यह देख अर्थात् शेरनीशी मांदवे निकर एफ नगर सानेकी इच्छा रोमुरासन फेपिटालाइन पयतशिम्बर पर हत्यारे और प्रकट की। यह विचार हाने लगा, कि नगर कहां और भागे हुए अपराधियोंफ रहनेके लिये एक जेलखाना कैस बनाया जाय । इस विषय पर होना भाइयोर्म वाद वाराया। यह जेन्याना अपराधियाँसे पुछ ही समय विवाद होने लगा। रोमुलासन पेठेटाइन पचत पर में भर गया। कितु चशद्धिक लिये उनको त्रिया न मौर रेमासने मायेनटाइन पर्वत पर नगर निमाण परने । दा गइ। पयोनि कोइ भी ऐसे अपराधके अपराधी की इच्छा प्रस्ट को। अतमें यह निशित हुमा, कि दुर्गासे अपनी पुत्रीका विवाह करना दो माहता था। इस झगडे का फैसला देयताओ द्वारा राया जायगा। अन्तमें इनफे लिपे बलपूर्वक पन्या ने सप होन दोना अपने इस वरनाक निकट जा कर माम प्रश्न उठा पर सारा दिन येटेहार गपे। अत एपने ६ गृध्र मक आशुमार रोमुलासन कनसस नाग देवता देने और दूसरी १२ धपेपिर भेरिदास परामर्श कर फे पूजोत्सरको घोषणा कर दी। इसमें लेटिन और निश्चय किया गया। जीत मुगसकी हाद। सेयान साधारण निमवित रिपे गये। सभी रामन्नासका राजत्वकाल १५३ ०१७ साल पूर्व। मर नारी तमाशा देखनके लिये इस उत्सयमें माने इस तरह रामुलासन यताशपा पा कर नगरका लगे। उत्सव पूनर पारियों के पास होने पर उस सामा निधारित करनफे लिपे यदाका यात्रा की। उसने में आप सभी कुमारी अनुशामाको रोम युग्मन दरण पक्र म एक पैर और ए गायशे जोत पर पेलो । कर लिया। वयाओंके पिता इस बारडसे टापमानित सन पतिप मारे। भोर घराद पराइ या इलचिमे हा घर औट राजाक साथ युद्धको तप्पारो परले रगे। चिन्दिन दिया। यही चिद रामनगराफे चारों भोरकी' फिनानो, आपरमो भार फाष्टुमेरियम नामक Nol us