पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष विंशति भाग.djvu/२८

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


२५ रोम सम्राज्य कन्याने कोचमाको हुपम दिया, कि तुम पिनाका शादेह को सेक्टसने हाथम नगा तलवार ले कर लुशियाको के ऊपरसे गाही चला ले चलो। ऐमा हो हुमा, गाडी कोठरीमें प्रवेश किया और कहा-"यदि तुम मेरी घात के चकसे शरदेहके दो खण्ड हए । इमसे निक्ले हुए | न मानोगी तो मैं तुमको मार डालू गा और बाहर रत के छोटॉसे टालियाको पोक भींग गइ। उसी समय | बगा, कि तुम गुलामके साथ यभिगर कर रहा थो, से इस मडक्या नाम (Micked street ) विक्ट्रीट इमोसे तुमको मैंने मार डाला है।" लुमोशियाने प्राण अर्थान् निष्ठुरपथ रखा गया। समियमके मृत शरीरका भयकी अपेक्षा क्लवका अधिक डर माना। सेकटसके कोइ सत्कार 1 हुगा। इसने ४३ वर्ष तक राजन्य किया इस अमानुपिक काण्डके करनेके उपरात लुम शियान अपने पिता और पतिको बुला पर इसका बदला चुकाने के लिये उत्तेजित किया और छातीम छुरा मार कर स्यूशियस टाईमस मुपवास । (५३५ ११० ईघाम पूर्व) इस पलङ्कमलिन अनुतप्त जावनलीलाका १ त कर ल्यूजियमको रोग महद्वारी राइन कहने है। दिया। इस काण्डसे रोमके अधिवासी उत्तेजित हो इमने धनिकों को देनासे निकाल कर उनकी धनसम्पत्ति उठे और उ होंने राजा तथा उसके परियारवर्गको पर अधिगर करना आरम्भ किया। इमने अपने जीवन देशनिकारका दण्ड दिया । उस समय राफुइन नष्ट होनेको माहाने देहरक्षक नियुक्त किया था। यह वाहर युद्धम प्रत्त था। उसका भामा एल टसने रोम पर भीषण अत्याचार करने पर भी विदेश में एक सैन्यका अधिनायक हो पर राइनके विरुद्ध युद्धकी पराक्रममा राजाके सामसे प्रसिद्ध हुआ। उसो घोषणा की । राजाको फौजें अत्याचारा राजाको अभियस मानेरियम साथ अपनी फ्याका विवाह गधीनता छोन पर Jटसके अधीन हुई। टाइन पर लारियममें प्रभुर स्थापित किया । इसके बाद शीघ्रतासे रोम लौट आया किन्तु पिसीने नगरका दर रानने भलसियानों के ममृद सुयेपा, पमेरिया नगर वाजा न खोला। उस समय हर पर अपने पुत्रोंके पर अधिकार पर बहुतसे धन सम्पत्ति लूट ली और उसी साथ पायेरी नामक स्था7में जा बसे। यह २५ वर्ष धमसे पेपिरालाइन पर्वतके शिखर पर जुपिटर, जुनो, । तक राजत्य कर पुत्रके दोष तथा प्रजाकी ओरसे निर्म पप मिनामा-इन तीन देवताओं के नाम पर फेफ्टिा | सित हुभा। लियम नाम एक विराट मन्दिर बनवाया । मन्दिरकी | रोमर्म राजतन प्रणालीका नगद प्रजासव शासन कायम युनियाद बोदेत समय एक ताजा नरमुण्ड क्रा हुआ) हुआ। इस घटनाको आर करनेके लिये रोम वासियो ने पाया गया था। इम मन्दिरमें एक भूगाय कोठरी में | इसाफ ५१० पूर्वी २४ फरवरीको रेजिफिडजियम या भने पवित्र हस्तलिखित पुस्त रखी हुई थी। विडगालिया नामक वार्निकोत्सवका सूत्रपात किया। इसर बाद राइनने गेवियाइ नामर एक रेटिन रितु प्रजात प्रणालीके बदले शासनप्रणालीफे मलका मगर पर विश्वासघातकतापूर्ण अधिकार दिया। इस परिवर्तन न हुआ मजाके चुने हुए दो महामाएडलिक समय पक देवा घटनासे यह ष्यपिन हुआ। एक दिन नियुक्त हुए। उनका यद पद तीन बाके लिये स्थायी एक सर्प पूजाकी चेदासे निष्ल कर बलिदान पिपे हुए हुमाघे ही साधारणको सम्मतिस राज्यशासन करने पैलका मतदोबाने लगा। राह देख टाईनने इसका ल्ग। ये पिटर और पाछे कन्सल नामसे पुकारे गये। मर्ग जाननेय रिपे अपने दो पुत्र तथा वहनको युयाना । सन् ५०६ मासे पूर्व पल प्रटस और टाकुनस के खेलिफीके यहा भेजा। इधर राइन जब अर्दिया, कोलेशियम पहले सल नियुक्त हुए। वितु राहा पर अधिकार परनपेलिपे युद्ध में ना रहा था उम समय घगोद्य होनेको यजद कोरेशियम पीछे रोम परि उसके पुत्र सकटरने लेशियसका पतिपरायणा स्रो त्याग करने पर 17 हुए और पिमारेसिपस इनकी प्रोशिया सतोर ना पिा । एक माधी रात | जगह नियुक्त हुए। Vol