पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष विंशति भाग.djvu/५८२

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


वयन विद्या उडेक साध घाध दरे, इसके बाद ऊपर लिखे हुए तराक | पडता है। तूलासे प धारम दा सूते भी तैयार किये से दूसरे 'जी' के भीतर उक्त विप' को पहनानसे नीचे जा सकते है। वाले जो के सून ऊपरको उठ जाये गे पर इस तरहस इन | आज तक जिनने नपे तांत (Improved Hindloom) सूनोंक भी 'य' वाधना होगे। इस तरह ए तरफ तैय्यार किये गये हैं नीचे उनका सक्षिप्त परिचय दिया व बाघ चुक्नेपर नराज उन्टा कर दूसरी ओर य' याधे। जाता है। इस ओर व बांधोके समय ततु इस तरहसे 'जो के अन्दर जापानी तात-(Japanese Handloom)-विला पहनाना पडता है कि यही ततुगुच्छा पहरेक बंधे हुए यती तानोंको अपेक्षा जागनी तात अधिक कार्यकारी होत 'व' के अन्दर दिया जा सके। तानेके पक्से मधिक ततु | है। व्यक्तिगत हिसायसे वे काय चलाने के उपयुक्त नहीं हैं। कअन्दर प्रवेश न कर जाय उस पर विशेष ध्यान देनको आवश्यकता है। 1oom ) दगने सुनने एव मजदूनार्म यह तात बहुत . इस याद तानेको रघे पर चढा पर पडा धुनना अच्छा हेता है। आज कल इसका दाम सस्ता करक च हिये। पहले पैडल (पाप दान) दया र तानेमें फोक १२० २० वर दिया गया है। परतु इसक यात्रिमश उठानी पहता है। प्रत्येक चार ढरी चलानेक वाद उतने आसान नही है हठात् निगड जाम विपद् दृट भरनीके सेतुओंको राचसे क्स देना चाहिये। करघे दो, पडता है, काय मो वन्द हो पाता है। इस कलसे प्रकारके होते, पहला वह जिसमें कुमी पर बैठ कर दैनिक ८ घटे काम करासे ४२ गज, ४४ इञ्च ल्ये चौड़े कपडा धुना जाता है और दूसरा यह जिसम भूमि पर हो । पड नगर किये जा सान है। इसको परिचालनाक बैठ कर दरती चलानी पड़ती है। इन दोनोका हाइम लिपे शक्तिशाली पुरुषकी जरूरत होती है। कोइ भो नीन तथा 'पिटलूम' भी कहते हैं । "पिटलूम' के कारोगर पाव । घटेस अधिा काय करने में समर्थ नहीं होता। पजिन दान रहने के लिये करके नीचे गहढे याद रखते हैं। द्वारा चलाये जाने पर ये विशप उपोगो होते हैं। उसी गड्ढे में पाप लटका कर चे कपडा बुनने यैठते हैं। ३ लाहोरका नत तात (Lahore Improved Hand 'दाइलूम' की अपेक्षा यह लूम सुविधाजनक होता है। loom)-इसका निर्माणकौशल उतना जटिल नहीं है। इममें ततु अघिन नहा दृटते । हमारे देशके जलवायुके लिये यहुत उपयोगी है। नवाविष्कृत तात तथा ययादि। घिमिन प्रकारके विदेशीताका सथित परिचय - वर्तमान समय म्वदेशी आदोरमसे म्वदेशी वस्त्रोंका ४Jacquard Looms of reed space 82"= इसके अधिक व्यवहार होनेके वारण देशी घगला ताताको यथेष्ट द्वारा रेघिल ढक्ने मा प्रकारक पडे तैय्यार किये उन्नति हुई है। मनको विदेशी ता”को अनुकरण परक | जाते हैं। देशी तातोंका विसो किसी विषयमें सुधार किया गया है। ५ Drop Box Looms 8suith I shuttle= उनमें एक ही समय ५ वा १२ नटाइयोंम सूता ल्पेग्नेके | इसके द्वारा चेक, डील, डोरिया साडी प्रभृति वने लिये बत्तमान आविष्कृत तारिणोयरन , एक ही बार जाते है। पर ही पुरुष द्वारा ६, १२ वा २४ तानामाको नरियों में नवं की सहायतासे सूता लपेटने के लिये सरलायन्त्र ६ Drill mations Looms 60" mith I shuttle= (इसके द्वारा भरनो नरियों में भी सूता लपेटा नाता है) जिन तथा डिल प्रभृति कपडे चुने पाने हैं। एय साधु मिस्त्री प्रयत्तित ताना करनेकी सुन्दर क्ल ___GDoby Looms 43" mith I shuttle-क्निारी उल्लेखनीय हैं। (पाद) म अक्षर, फूल तथा येल घूटे काढे जात है। सूताच पा New spinning wheel-इसम ठीक ८ Dhuth Looms 48" mith I shuttle =इमसे सिलाइको क्लकी तरह चेयर पर बैठ कर पाव चलाना धोतो तथा साडा तैय्यार को नानी हैं। Vol xx 149