पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष विंशति भाग.djvu/६६

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


रोम-साम्राज्य मर गई। इस शोर पूर्ण घग्नामे उसने मोजस्तो मायाम साधी व सलको फौगो का युद्ध हुमा। पटलात परा सर्व साधारणको सम्बोधिन पर पर यपन्ना दी थी। जित हुमा और मारा गया । सिसिरोके युनिवरसे यह गेपिनियन और मानरियन कानूनको एक प्रधान सविपमे रोम पर गया था । इमीलिये टोने पृष्ठपापस पा साफ ६५ वर्षे पूर्व उमने मेरायामको उमशे 'रोमका पिता' कहा था। मारे योमन्दिरमें प्रतिमूर्ति छिप कर रात्रिर्म कपिटारम प्रतिष्ठित का।' सिसिरोके कन्याणके लिये पूना हु । कि तु साजिश पहरे यह प्रतिमृत्ति सला द्वारा तोड़ी गई पो । सीताप । करनेवालो को विना विचार किये प्राणवध करने पर इस कामम प्रजाने अत्यन्त आनन्दके माप उमशी जय । याहुतेरोने मिसिरोको अपराधा बनाया। ध्वनि की धौ । पचेलासने इस घटनाश समाचार सेनेटम, पम्या रोमर्म मा पर दो विपमें फमा। या पक्ष पहा पितु सेोर मान्दित प्रजाका पुट विगाइन । या साधारण पक्ष-श्मि पक्षा अपरम्यन कायद सरी। इस तरह सापर मेरायास, मिला और माटि वान यह स्थिर न कर सका। फिर नये पक्षस यि पका नाम वादिने प्रनापक्षीय पीतेंको पिलुर कीत्ति योग । लक्षण दम उमने माधार पक्षका भलम्यन लिया। पुरधार करने रगा। उसने एशियाये युद्ध में विशिए सेनापनियको नागार म समर मार्शम टाल्यिास सिसिरो सीनरक दनकी प्रतिमा को भी इस माय सेनटमे उसने प्रार्थना सहसम्मो रूपमं काम करने लगा। सिमिरोंने इमाके का, कि मेनापतियों को नागोर दा जाप जितु सेनटने १०६ प पू नापि नाम नगर म रिया था। उसका प्राथनाको नाम जूर कर दिया। गय पम्पा करार और अपनी प्रतिमाफ रमे ७६५ की भस्थामें से प्रतिमा पूर्ण करनेको चेहरा करो रगा। इसलिये सफसरोसियासके प्राणदण्डकी माछाफे ममय डिरर बासस और मोरसे उसने मित्रता स्थापित की। माय बिग्द्ध मोनास्थनी मायाम यफ्नृता द र मधे मोजर इम समय म्पेन और न्यूमेगनिया युद्ध में विजय साधारण उत्तमित किया था। 1 प्राप्त पर रोमर्म लौट माया और यह मल नियुष इम समय रोम कटगइनकी माजिशका घोर मान्दो । किया गया। पम्पी, सीर और मासस इन तीवी साघर रहा था। अन्याय गवाक्षम रोम नगरको मिवना पहले 'द्रापम्मिट' नामसे प्रसिद्ध है। यथायों पे प्रगाममेत म के लिये येष्टर पुमारियोंक माथ | वोन पुरषदा रोमके मार्यमोम मारिक हो उठे। किन मारि रहा हो। पराराने प्रगनिया अरेटिटा उम ममय ना मोनरका प्राधा सबसे अधिक मानी एक पश्याय प्रेम फार्म पर पर मानी पास्या सामरन सल पद मास पर पम्पौकी प्राथना पूरी की पुत्रका दध कर दिया था। सिमिरीन रोमनमाकी और कम्पिनियाक भूमिपएको पोकी सेनाम बाट मापिशे प्रकट किया। सिसिरोपी यपतृनाफे पल्स दिया। मोजरको मध्ययनामें सेनेरको दाय हो पर मानिश करनेवारको प्रापदण्ड हुमा था। मा ६३ । पम्पोय पगिया विनय-बायरामायन करना पडा। वर्ष पहले सितिरोने का पद पाया । इसी समय एक सफे बाद सोसरन पापी माय मिनाह परनेक भोरपिन, पसल एपिणम्य ध य एक कानून बनाने लिपे अप! दुहिनामा विवाद पापी माथ कर दिया। की चेष्टा कर रहे थे। मारा भार पटगानी मारा मोगर बस म पनि लोगो का निपपास दो ना। सानियो रिपार हुइ। मिसिगने पिररफ मोजर रोम-सामाग्यफ प्राधा पलाम पर होम्यदल मन्दिरम परगाफ पिचर ममियोग उपस्थित कर घों। लानेश उपाप मोगरगा। इस लिये उमो गर नयारको सेनेट सादरयो को पा मा युगा।' प्रदानामा पदस लिए मायना पीपल मोहुमा। माहितग्राले रस बार मी पानस मारे गप का दिया मेरिनिपासको गनुफ्यामे यह मिमा पार गम भव सैर सपद पर रोम पर थानमन परस गर भौति रियम प्रशासनामामा मार ५० पेट कर रहे थे। हमारे ६२ पर पहल उमरी पोतों से५४ पप पूर्व तक पद इस पद पर था। यह एमपी