पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष सप्तदश भाग.djvu/२००

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


पापान महाका मा करने के लिए एक महामना नहीं दिया। दोने मे पुनपारिक मार गंठाई । ममा कार्य नियोहफे लिए पापापा को टॉशारिपनौको सभिपेश करने की इस viri अधीन पांच सौ पोधिसत्य नियुन हुए। इस महाम- सत्याप मारायन पर सालानामगर से प्रमशः मोहानिक-रोका, यिनय विनाश गौर भमि मौन मत पोषक मदों पयं पर प्रयिमारा सलिन हो कर अठाए यौग्ममितिको निन्दादी करते रहे। पदो कालिमा सम्मनिफे अनुसार जनसाधारण प्रचारित हु। मां पान्याने भईयोंको नोपा सासन देकर रोभिरालो ममय यिनप, सूत्र तया मनिधगं नाम बौदवारमन्य को अपने मामन पर पेठापा है। ' संगृहीत, परिशोभित और लिपियर एमा शा। शन्ययाद ही महापाग मा प्रधान है। उन महासमा पोयल गारन धौर उमको टोका-रग मान्यता पा "मराम्य" यसमको होगीको को रचनाफे लिए ही बैठी थो, ऐसा नहीं कहा जा मूलमाला स्वीकार करते हैं। पपा में पाय. सकता। पर हां बौद्ध धर्मके मूलसत्यफे रक्षणार्म बाद प्राचीन संविधासोत, गनाAngi finax विभिन्न समितियां जो एफमत हुई थी, उसमें कोई सन्देश है। पहले ६. किनाश्प पुतने कहा-नुमा नहीं । पाय या मा पन्तर घटनाफा मनुशीलन करनेसे प्रमि नहीं है, इसलिये इसके मादि मन्त गो गो है। अनुमान किया जाता है, कि धायक या दोनयान मनने यही कारण कि बहुत दिन तक पद पूत शान्ति इस समामें विशेष प्रतिपति लाम को यो। किन्तु विराशित भार सम्पूर्णम्पस नियां मिली । महापान मन पगारगी छोड़ दिया गया। किंतु विपस्यादिगण इस मस्ययायको भावना र इस महासदको फापरम्पराग मालूम होने पर सका विभ्यास मदों करते। मी यह निश्चय कि सिंदलपासो पौद्धगण सजापताका सरूपरी पराया दिगmat इस सभाको पपिगटोन धर्म मनालीसे बिलकुल पृपया वादगारन गम्यता, मायग्यता मेरी हा थे। इस यानगो महापान प्रतिउसर भारतीय बौद। भेद पर गये है. शिनु तिपतोष पास लामाग सम्प्रदाय मुक करटसे स्वीकार करते है। किंतु इस महा प्रकारको भेद यसलारी ।। समाका मचान लक्ष पद गुमा, कि उस समपमे पिमित्र पहले ही कहा गा गुम, किमागाईगोदा पानधर्मरायो मध्य जो यकालम्पापी मामेर पला । पान काल में योग और गनिमार्गध प्रमा माना , यह विलपुल जाता रहा । सो महायान उसो गति सानो मायानगम हा मनु सम्पदाप इतने दिनों क्षीण ज्योतिको विद्यमान पापिल पर अपने समानुपायोगा गर । उसने पो ही दिनोंरे मम परिपुष्ट होकर बोद्धार पर तिहास भागोग पा Kare समाज सिर कंपा शिपा। महापानमा गुण्य पिक दगा। परो? मागिसके प्रतिधाता गाणतम मदापानमतमान-मापन समाप दारा दम रोये। उनि अपने मतने दिदा माग्न माना पर पुलिस महानिर शहर हिन्दन सग्निपेशित किया था, यह पाले हो कहा गया Mr. IT aar nka-- मा पुका है। | उन्होंने पून गायontmaram Tirsti Rifo ममदापको समेपर मे एन मागाये. द ही RATREEr. पाशार मटित गुमा। दो बार लिपि में | Arrr . सम्मापा मानिस मामे किसीमको तो जो जोमदायको swiniree किया, पर भागम पोखगासना परियार frame rint fam. भापित गा समी तिला . Ty arrer wir.