पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष सप्तदश भाग.djvu/३४४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


गन में मामने अपनी पियुन पाहिनियों सारा दिन नुमुल संग्राम हुमा। न्नर प. माय मरमफे निकटफे पाननाय पर्यंत पर विराजित मूद हो विजयी हुमा । हिन्दुओंको मृतरने पर : गिन्दा दुर्ग पर भाग्रमण किया । गह उमफा नयां उपत्यका भर गई। माममण m। यह गान् कालमें गानोमे गला । अय निन्दनफे युद्ध मन्दिर में मरमूदको एक in. माग्नफे मामा पगिरिमटमें भाया, तब उसे परे लिपि मिली थी। इससे महमूदको मारमा संकटका मामना करना पड़ा। पयोंकि मीमान्ल पर फि यद मन्दिर उस समपसे ५०० सपना पहुंचने मने देगा, कि पथ तुपारायन है। तुपारसे । सना है। किन्तु मुमनमानों धर्म प्रधाममात र यही जमीन इम सहक गई पो, कि लता, गुन्म, पतः यर्ष मात पृथ्वीको मृधि है। इसमें महमूदो पदमा मा, नदी, झोल भादि किमी गीतकी गोज करना : मूली प्रतीत हुई। इस मन्दिर, मो भगाय. धना अमम्मय गा। महमृदफे र भोर सैन्य अदयम् हो । घो। इसे उठा कर मामूर गानो ले गया। .:. गये। दिग्मण्डल गुमान धादिसे परिपूर्ण था। किसी सन् ११४ १५० इस l प्राममण दुभा। को भादिनाका भी शान ग रहा । किनु महमूदफा : पदलेग ही महमूद सुन चुका था कि भारतय मानेकर मादम नहीं छुरा। यह उद्योग करता हो रहायर ! मन्दिर बहुत विषपात है। थानेश्वर रामापे पास बहुतेरे, पर भरोसा पर उम जंगल मौर पदाएको पार करने : सिंहलो हाथी हैं। इसका या फरमा काटिन कि लगा। मायागेदो सैनिकोको कई दलों में विभाजित उसके पास कितना धमाएर m | इस गा कर पापा, मेनापनिफे हवाले कर दिया। निन्दनराज पिकलता हुई। सुन पद पारों गुनते ही धन सोभाग्ध पुर माल निगा. भीमपार नाम सुवक्ष सेनिझके , मूद थामेश्वरको फोर चल दिया। भयोगस्य Am पाश गुर्गरसाया भार देकर भाप काश्मीर पधारे। भानन्दपालको पर्यफे लिये रसद भीर सदके जिये, भमपाल पर मोटे दुर्गम पयर्स अपनी फौमों के माथ: सैनिफ जुटाने के लिपे पर लिया। भानरपाल उपगुट गिरिसहर पारीर मा कर घेरा याद कर बैठ गया। मह ! रसदका इलजाम कर पदमार सैनिशरमा माने मूद गफ गया । इसने हम समय युद्ध करना उचित माईको गवनी महमूदयः पास भेगा मौर कहा, - fram ग ममम पर पर्यत पर चढ़ने लगा। इसके अफगानो कर मेरा यह संदेशा कह देना शियानयर हनुमंत मैग्य बकरोंकी नाद पर्यंत पर चढ़ने लगे। पहोस भक परिव मन्दिर है। यह उपामर्कोको उपासना TEIN गामा सैम्प मागपारसके सैनिकों मार हाधियों पर तोर उपासना स्थान है। मतपय माप उम पर धाममन माने परमान तथा पररा फेकने लगे। कां दिन तर प्राण का यपाल अपने दिलसे मुला-मापको गर. पणसे या फरफे मी मरुगानी भीमपालका विशेष पुछ, म्याप पर मणि गुना उपहारपं. माय.mit न. विगाहन सफ। अन्त महमूदकी कापुष्पनासे मिद कर पर्ष भी जाग। भामपाल समतल भूमिम गुन करने लिपे नप्यारो महमूदने रमका असर पो मिस inा, Twin को। हम्नो धेषी इमकी दोनों वर्गलोकी रक्षा करने प्रतिमाको सोटा लिये मेरा Iragn | मगी। भयदुर गुद्ध गुमा। महमूदने हार जानेके भपसेरने मुझे ऐसा ही पल दिया। ram सपने मैनिकी पर्वत पर पट मानेका मादेश दिया। पाप गर्ग मिलेगा। फलना गाने AREL पहास होय मीमगल पर तीर बरसाने लगे। मामा पा. पिरम मदीदा । प्रपाम पोसा मापु माता पापन हो मा पास यह समागार दिशामा गादिर- को बहुम गर्ग नोट मगो यो। उसको माप-संन्टमे ममापिपर मामी arti ghiry. • देव पर पदमूने सपने शरीरमा Era Mका मार रिया। हिन्दु मुसके पापोजन होने पाले हो गर. मर धामरर मा गगा। मानाने पर