पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष सप्तदश भाग.djvu/६७०

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


• मिसाल-मित्र रणजिन्मिहका अभ्युदय हुआ, तय सभी सिख-दल] ३ भूखा नंगा, कंगाल। ४ सीधा-सादा, सुशील । उनफे अधीन हो गये थे। इस सिपरत-सम्प्रदायको | मिस्कीन सूरत ( म० वि०) जो देखने में सीधा-सादा या एकताने एक दिन अंगरेज सरकारको भी कंपा दिया दीन, पर वास्तवमें दुष्ट या पाजी हो। था। नीचे मिसलों के नाम दिये गये हैं- | मिस्कोनी (मस्त्री०) दोगता, गरीयो । २ सुशीलता। मंशापक। मिसल। मिस्कोट (अ० पु०) १ भोजन, खाना । २ एक साथ १ छजामिः भङ्गो। बैठ कर खाने पीनेवालोंका समूह । गुप्त परामर्श । २ युगालमिर रामगढ़िया। मिस्टर (२० पु०) महोदय, महागये । इस शब्दश ३ जयसिंह फन्हिया । इस्तेमाल अफसर अङ्ग्रेजों में प्रथया अगरेजी हंगसे हीरामिर नई। रहनेवाले लोगों के नामके साथ होता है। ५ सदसिंह गहलूयलिया। मिस्तर (हिं० पु०) १ काठका यह मौजार जिससे राज. ६ गुलाय क्षत्रिय दलीयलिया। लोग छत या पलस्तर आदि पोरने हैं, पिटना । २ ७ सङ्गत और मोहरसिंह निशानवाला। यह कल जिससे नोलको रिकियां बनाई जाती है । ८ कयोडीमल फयोरासिंही। मिस्तर (१० पु. ) दफ्तीका यह बड़ा टुकड़ा जिस पर ६ फर्म भोर गुगसिंह सहीद और निहङ्ग। समानान्तर पर डोरे लपेट या सी लेते हैं। यह लिखने १० फूट चुलकिया। के समय लकीरें सीधी रखनेके लिये लिखे जानेवाले सुकफाचकिया। कागजके नीचे रखा जाता है। कभी फमी इससे कागज मिसाल ( ० स्त्री०) १ उपमा। २ उदाहरण, नमूना । भी दयाया जाता है। २ गेहतर देखो। ३ लोकोनि, मसल, कहावत । मिस्तरी (म० पु.) वह जो हाथका यात शच्छा कारी. मिमि ( सं० सी० ) मस्यति परिणमतीति मिस् इन, । गर हो, चतुर शिल्पका । इस शादफा प्रयोग अफसर याहुन्टकादत इकारः, पक्षे नियां डोप । १ मधुरिका, | लोदारों, पढ़यों, राजगीरों और फलं पेंच आदिका काग फरनेवालोंके लिये ही होता है। सौंफ। २ जटामांसी, वालछाड़ । ३ शतपुप्पो, सोयां। मिस्तरोखाना ( हिं० पु०) यह स्थान जहां लोहार, पढ़ा ४ उगीर, सस। ५ गजमोदा । मिसिरो (हिं० स्त्री० ) मिसरी देखो। .... या कल पेनका काम जाननेवाले बैठ कर काम करते हैं। | मिस्ता (हिं० पु०) १ यह मैदान मिसमें किसी प्रकारको मिसिल (भ० वि० ) १ तुल्य, समान ! मिस्न देखो। हरियाली न हो, यंजर। २ यह समभूमि जो अनाज (सी० १२ किसी एक मुकदमे या विषयसे संयंघ रग्वने- दनिके लिये तैयार की जाती है। पाले फुल फागज पत्रों आदिका . ३ किसी मित्र (मिसर) (Cgspt) अफ्रिकाके उत्तर-पूर्व में पुस्तकमे अलग अलग छपे फाम जो सिलाई मादिक अवस्थित देशविशेष। इसकी उत्तरी सीमा पर भूमध्य. फामफेलिपे क्रमसे लगा कर रपे गए हों। सागर, पूर्व पेलेस्टाइन, भरव और लालसागर, दक्षिणी मिसिली (दि. य.) १ जिसके सम्बन्ध भदालनमें कोई सीमा पर न्यूपिया और पश्चिमी सीमा पर सहारा- मिसिल बन चुकी हो। २ जिसे न्यायालयसे दगड मिल | भूमि है। यह मक्षा० २४.३ से ३१६३० तथा चुका हो, सजायाफ्ता। देशा. ३० से ३४४०१०में भयस्थित है। गिसी (हिं० सी०) मिसि देशो। . नामको उत्पचि । .... मिस्कला (म. पु०) सिकली करनेवालोंका यह औजार मित्र शाद अति प्राचीनकालसे भारत में प्रचलित है। जिसको महायतामे ये सिम्लो करते हैं। विलसन भावि विद्वानोंका अनुमान है कि भारतीय मिस्कोल (१० पु.) १ योन, येना। २ दरिद, गरोद।। 'निध' उपाधिधारी प्रामोंने, अति प्राचीनकालमें