पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष सप्तदश भाग.djvu/६८

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


महम्मद ये हो गये थे। पर उपरोषत स्मृतियोंने : परमात मला होहो मोग मांग निता इनके मग्न हदय नम्बरको फिर पगिन कर दिया। और परमपिता ममभने । सोमय के समर, मम्मद सपने पर एक या यो ले कर मदेश लौटे। विपत्ति पाने पर नपा योशित होनेर. रामलोग यहाँ भाकर दोंने पीयनसुनम प्रणयामग्न हो पदिशाका मन्ला दीका नाम लेने थे। यानारिकों पर पिशि पाणिग्रहण किया गयपि विघया पादिमा अपने पतिम मल्लाहुम्मा" मामको मोहर लगाते । निगk: तुल बड़ी यो फिर भी विवादका फल सुणमय हो! सामाको उपासना निश्चित समयको छोड़ भार मो मी दुमा। मदों करते, यहाँ मानिनाम मी नदी मेरो धे। पूजा मादिना सायाममे मम्मद सुगी सौ थे, पर मादि पिसेर गपित न रहने परमी पुण्याय भोटको पेन्द्रीमून धर्मलालमा उगो हुदगम क्षणमात भी दूर न रसपमें उन लोगों का एक महामम्मिनस येठना in होनो यौ। मिाापरात करीव १५ यताये धर्मा। मम्मिलन के दुष्पदियममें गनु, मिस ममी पर: भावित निता पयंस बदमासा कर सपंदा दोन धीर पारस्परिक मनोमालिन्य रा कर पापम निरासंयमको चेष्टा किया करते थे। इस समय कार्य एक दूसरेको मालिशन करते थे। . पशाम् उन्हें फिर मिरिया नया दक्षिण मरय जाना पड़ा। देयतामि भमपित होनेके कार परस्यानो विदेशयाना इन्ही कुए सामयिक बातें मालूम दु धर्ममाय र दीना गया। पूर्वतन मपपान, पदिसा...। असे ये गलोगांति समझ गपे, कि यहाँफे लोग मृत्ति । पराकोदा, मध प्रेम.प्रतिदिमा, भारमाला मा. पूजन-धर्म यिर पक्षपाती नहीं है। मगर मैं अपना | प्राशि मादि व्यापार अरमानोका माग गया मत महट फर तो धर्मपरिपत्तन पाले भनेको मनुष्य मेरा) | था। यहां तक गि, हम लोगोफ हाय भी मरतोस ... अनुसरण कर सा है। इसी उद्देश्य सिद्धि निमिरा ममि मरे रहते थे। काकी ऐमो THER HIT संस्थत धर्मपरिवर्तन गायपहा परमी रमजानीप इन्होंने कई बानो यहदियों यथा साया तनोगको मायकी और हिमोगा या महो जाता जिगमें अबदुल्ला इयन मालम तथा पाकरे, नाम उन्लेगोय। राक इनसे साले माथे। दोंने तापेर मोमय पग मागिन् मन का RETR'. गसिंपूशन धर्म निरपत हो कर पहले पहरोध गौर उमर, मदोगा. भार कामगद माविमनस Tram. पोd Ilको म्योकार किया था। पिमित्र मांय. समोर मामा मामानी लिन पिरोपी दो फर किमी मपे ममफा मनमरण पारमा गारmileg मम्मियों के सहयास गदगद गरी तरद समद मरे, मिटागों की मां पर हो. तो मिराटि . कि भाव १. नपोन धर्म पापन करगा बहुत मिराको भीमदत की। पान सहरी है। होने सिपम य TA HTTER १६ पहले ही कहा जा मुका, शिवम मदोता! किया। माप महमदका पिपादमा, तबसे गहरपमे पर्यः । मागहानि नाम पर भी nिt: सुधारको भापना ग उठो ६ माना मिPिink माया मा पहीला कि भिन मनुष्यो. गातांसपर पलपती होतो गtri FIX मा पERErn. राने मदना एवं नारफगामियर NTC. IT पांगारी । afrन पा कर दो। महम्म मन्पुरधान ममा नाका HENNAIममी Haat मा गायनामा मज मी मनोमriRITaimur m मृतिमा । it समा गया. forxi मिनी मोर हिritra भीमान RTET FANARTER योगदान परले देशमानि marwadi प मापा मोर नाना महोतं. न इमोसोहीदी .