पृष्ठ:Antarrashtriya Gyankosh.pdf/५३

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ प्रमाणित हो गया।
४७
 

२,४०,००० सेना युद्ध-स्थल में भेजी थी। आस्ट्रेलिया के पास एक नौसेना है, जिसमे ४ युद्धपोत तथा २ विध्वंसक है। हवाई बेडा भी है। आस्ट्रेलिया के वर्तमान प्रधानमन्त्री आर० जी० मैन् ज़ीस हैं। वह सयुक्त आस्ट्रेलिया-दल के नेता भी हैं।

ब्रिटेन और जर्मनी के मध्य वर्तमान युद्ध छिड़ने पर, ५ सितम्बर १९३९ को, आस्ट्रेलियन सरकार ने भी युद्ध-घोषणा कर दी। पार्लमेंट में विरोधी-दल ने यह प्रस्ताव पेश किया कि आस्ट्रेलियन सेनाएँ बाहर न भेजी जायँ, परन्तु २८ के विरुद्ध ३३ के बहुमत से यह प्रस्ताव गिर गया।

७ दिसम्बर १९४१ से जापान ने, प्रशान्त महासागर में ब्रिटिश, अमरीकन तथा डच द्वीप-समूहों पर आक्रमण शुरू किया। मार्च १९४२ में जापानी यानो ने आस्ट्रेलिया के बन्दरगाह डारविन पर हवाई हमले किये और ता० ५ अप्रैल १९४२ तक १३ बार इस बन्दरगाह पर हमले हो चुके थे। प्रशान्त महासागर में जापान विजयी हो चुका है, और इन दिनों, इस युद्ध में, आस्ट्रेलिया को जापानी आक्रमण का ख़तरा बराबर बना हुआ है।





इटली--क्षेत्रफल १,१९,७०० वर्गमील, जनसंख्या ४,४०,००,००० है। नाम-मात्र के लिये इटली में बादशाह विक्टर इमान्युल का राज्य है; परन्तु वस्तुत: मुसोलिनी और उसके फासिस्ट दल का अधिनायक-तन्त्र वहाँ चालू है। सन् १९२६ में इटली की पार्लमेंट वास्तव में फासिस्ट बन गई। सन् १९३४ में इसने अपने समस्त अधिकार कारपोरेशन की राष्ट्रीय कौंसिल को सौंप दिये और अक्टूबर १९३८ में पार्लमेंट का अन्त हो गया। इसके स्थान