पृष्ठ:Antarrashtriya Gyankosh.pdf/६४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
५८
एटली, मेजर
 





एकच्छत्र शासन--एक व्यक्ति का शासन। इस शासन-प्रणाली के अन्तर्गत प्रजा को शासन-प्रबध में भाग लेने का कोई अधिकार नहीं होता। न प्रजा को मताधिकार ही होता है। एकच्छत्र शासन का सबसे उत्तम उदाहरण भारत की देशी रियासते हैं। एकच्छत्र शासन स्वेच्छाचारी होता है, परन्तु वह लोकमंगलकारी भी हो सकता है।

एकाधिपत्य--किसी व्यवसाय तथा व्यापार आदि पर किसी व्यक्ति-विशेष या व्यक्ति-समूह अथवा कम्पनी का पूर्ण अधिकार होना। इस समय संसार में तेल पर दो कम्पनियो का विशेष अधिकार है, एक एग्लो-पर्शियन कम्पनी और दूसरी रॉयल डच कम्पनी।

एकान्तता--सयुक्त राज्य अमरीका का एक राजनीतिक सिद्धान्त है। जिसके अनुसार यूरोपीय मामलों से पृथक् रहना ही अमरीका के लिए श्रेयस्कर माना जाता है। एकान्तता के नेता सीनेटर वोरा का जनवरी १९४० में देहान्त हो गया। आजकल इस मत के नेताओं में सीनेटर वेडेनबर्ग और जॉन्सन प्रमुख हैं। वर्तमान युद्ध से पूर्व ब्रिटेन में भी इस मत का प्रचार था। इसके अनुयायी या समर्थक यूरोपीय महाद्वीप के मामलो में हस्तक्षेप के विरुद्ध थे।

एटली, मेजर क्लेमेट रिचार्ड। ब्रिटेन के पुराने मज़दूर नेता। सन् १८८३ में इनका जन्म हुआ था। हेलीवरी तथा यूनिवर्सिटी कालिज आक्सफर्ड में इन्होने शिक्षा प्राप्त की। सन् १९०५ में वकालत शुरू की। इनकी प्रवृत्ति समाजवाद की ओर थी। सन् १९१३ में यह लन्दन के अर्थशास्त्र के स्कूल में अध्यापक होगये। सन् १९१४-१८ के युद्ध मे भाग लिया और मेजर की पदवी प्राप्त की। सन् १९१६ में स्टेमनी के सर्वप्रथम मज़दूरदली मेयर