पृष्ठ:Antarrashtriya Gyankosh.pdf/८१

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
कामिएटर्न-विरोधी-समझौता
७५
 

काबालैरो--स्पेन का मजदूर नेता, सन १८९९ में जन्म हुआ। यह

Antarrashtriya Gyankosh.pdf


मकान बनाने का काम करता था। बाद मे स्पेनिश समाजवादी-दल का अध्यक्ष होगया।

सात बार क़ैद की सज़ा दी गई। सन १९१७ में फाॅसी की सजा मिली, परन्तु रिहा कर दिया गया। सन १९३१-३३ की प्रजातत्रवादी सरकार मे वह मज़दूर-मत्री था। स्पेन के गृह-युद्ध में सन १९३६ मे वह प्रजात्रवादी सरकार का प्रधान-मत्री होगया। सन् १९३७ मे उसे प्रजात्रवादी दल ने बहिष्कृत कर दिया। जब प्रजातत्र का पतन हो गया तब वह स्पेन से फ्रास को भाग गया।

कामन सभा (पार्लमेट)--ब्रिटिश पार्लमेट की प्रथम सभा (House of Commons)। सन् १९११ से इस सभा का अधिक प्रभाव है, क्योकि लार्ड सभा (House of Lords--द्वितीय सभा) इसके द्वारा स्वीकृत किसी प्रस्ताव अथवा बिल को रद नही कर सकती। इस सभा मे ६१५ निर्वाचित प्रतिनिधि है--इँगलैड के ४५२ सदस्य, वेल्स के ३६, स्काटलैड के ७४ तथा उत्तरी आयरलैड के १३ सदस्य है। इँगलैड के धार्मिक-तत्र(Church) के पादरी सदस्य नही चुने जाते। कामन-सभा के सदस्यो का चुनाव पाँच साल के लिए होता है। इसके सदस्यो को अपने नाम के आगे एम० पी० (मेम्बर पार्लिमेट) पदवी जोडने का अधिकार है। सदस्यो को ६०० पौड सालाना भत्ता तथा रेलवे की यात्रा-संबंधी सुविधाएँ दी जाती है। सभा का अध्यक्ष स्पीकर (Speaker) कहलाता है।

कामिर्ण्टन-विरोधी-समझौता--२५ नवम्बर सन १९३६ को जर्मनी और जापान के बीच यह समझौता हुआ था। इसका उद्देश कामिण्टर्न अर्था्त साम्यवादी अन्तर्राष्ट्रीय संघ की काररवाइयो तथा आन्दोलन का दमन