Locked

अंतर्राष्ट्रीय ज्ञानकोश/किसान-कार्यक्रम

विकिस्रोत से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
अन्तर्राष्ट्रीय ज्ञानकोश  (1943) 
द्वारा रामनारायण यादवेंदु

[ ८३ ] किसान-कार्यक्रम--फैज़पुर कांग्रस-अघिवेशन, दिसम्बर १९३६ मे, किसान के हित के लिए जो कार्यक्रम निश्चय किया गया, वह किसान-कार्य-क्रम के नाम से प्रसिद्ध है। लगान मे काफ़ी कमी, बिना मुनाफे की जोत से लगान न लेना, कृषि पैदावार पर कृशि पैदावार-कर, नहरो की आबपाशी की दर में कमी, नज़राने तथा वेगार आदि बन्द करना, काश्तकारो को ज़मीन पर मौरूसी अधिकार दिलाना, अपनी काश्त पर मकान तथा पेड़ लगाने का अधिकार, सहकारी ढंग पर खेती की व्यवस्था, किसान-कर्जे़ में कमी और माफी, गोचर-भूमि की व्यवस्था, पिछले सालो का वक़ाया लगान माफ, दीवानी क़र्जे की वसूली की भाँति बक़ाया लगान की वसूली की जाय, जमींदार को किसान को काश्त से वेदख़ल करने का अधिकार न रहे, खेतिहार-मज़दूरों के लिए उचित मज़दूरी की व्यवस्था, किसान सभाओ को मज़ूर किया जाय।

काग्रेस-मंत्रि मण्डलो ने, अपने शासन-कल मे, इनमे से कुछ सुधार किये, परन्तु मौलिक तथा सब किसानो को लाभ पहुँचानेवाले सुधार नहीं किये गये।