विकिस्रोत:चौपाल

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
विकिस्रोत चौपाल पर आपका स्वागत है !

विकिस्रोत एक मुक्त ऑनलाइन पुस्तकालय है; यह स्वैच्छिक योगदानकर्ताओं का एक समुदाय भी है। यहाँ मुद्राधिकार मुक्त पुस्तकों का शुद्धतम पाठ स्रोत सहित उपलब्ध कराया जाता है जो विभिन्न प्रारूपों में उपयोग करने तथा वितरित करने के लिए मुक्त होते हैं। इस कार्य में आप भी सहभागी बन सकते हैं।
इस पृष्ठ का उपयोग कैसे करें ?
  • यहाँ विकिस्रोत से संबंधित उन विषयों पर लिखा जा सकता है जिन्हें सभी सदस्यों के ध्यान में लाने की आवश्यकता हो। जैसे, आम सूचनायें और सुझाव; चर्चायें एवं प्रस्ताव जिनके लिए अन्यत्र कोई पृष्ठ निर्धारित नहीं; तथा अन्य चर्चाओं की सूचनायें जिनमें सभी इच्छुक सदस्यों की भागीदारी अपेक्षित हो।
  • किसी एक पृष्ठ विशेष (लेख, साँचा, श्रेणी इत्यादि) में सुधार/बदलाव हेतु उसके वार्ता पन्ने पर और किसी सदस्य विशेष से उसके संपादनों अथवा व्यवहार के बारे में चर्चा करने के लिए उसके सदस्यवार्ता पन्ने पर चर्चा करें।
  • ऊपर बताये पन्नों पर किसीसहमति तक न पहुँचने की दशा में यहाँ सूचना देकर अन्य सदस्यों को चर्चा में भाग लेने हेतु आमंत्रित करें; यदि यह भी विफल रहता है तब यहाँ लिखें या प्रबंधकों को सूचित करें। प्रबंधकीय कार्यों हेतु विकिस्रोत के प्रबंधकों को सूचित करने केलिए प्रबंधक सूचनापृष्ठ का प्रयोग करें।

नई चर्चा / नया अनुभाग आरंभ करें

लेख संख्या:३,३७५

इस लेख या अनुभाग का अंतिम संपादन अनिरुद्ध कुमार (योगदानलॉग) द्वारा किया गया था।


छूटे स्कैन पृष्ठ[सम्पादन]

कई पुस्तकों की स्कैन फाइल में कुछ पृष्ठ छूटे हुए हैं। ऐसे पुस्तकों का परापूर्णन भी अधूरा ही होगा। क्या ऐसे पृष्ठों और पुस्तकों को याद रखने के लिए किसी श्रेणी, सांचा या पृष्ठ बनाने की जरूरत है या चौपाल पर सूचना देना पर्याप्त है? सदस्यों का सुझाव आमंत्रित है। उदाहरण के लिए पृष्ठ:भ्रमरगीत-सार.djvu/१३६ के बाद अगले पृष्ठ के बीच कुछ पृष्ठ छूट गए लगते हैं। पद १३१ के बाद सीधा १३७ आ गया है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०८:५६, १७ अगस्त २०२० (UTC)

सूचना देना ही पर्याप्त होगा। कुछ पुस्तकों में पन्नों के दुहराव की भी समस्या है, जिसे फ़िलहाल ख़ाली करके 'पाठ के बिना' विकल्प के साथ रखा जा सकता है ताकि परापूर्णन के बाद क्रम बना रहे और दुहराव भी न हो। जैसे ही इन पुस्तकों के बेहतर स्कैन वाली फ़ाइलें मिल जाती हैं हम उन्हें इनपर वरीयता दे सकते हैं। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) ०९:०६, १७ अगस्त २०२० (UTC)
जिस पुस्तक के बीच के पृष्ठ स्कैन नहीं हैं उनके लिए एक अलग से पृष्ठ बनाना चाहिए। चौपाल पर सूचना मात्र देने से तत्संबंधी सूचना पुरालेखों में विलुप्त हो जाएगी। अतः संभव है उसकी जानकारी नए सदस्य को नहीं हो पाएगी। नया पृष्ठ बनाने से उस तरह के सभी पृष्ठों की जानकारी वहाँ दर्ज की जा सकेगी। एक ही नाम की अन्य बेहतर फाइल मिलने पर सिर्फ स्कैन छूटे पृष्ठों को स्कैन करके परापूर्णन करते समय उन्हें आपस में जोड़ा जा सकेगा। --नीलम (वार्ता) ०६:५४, १९ अगस्त २०२० (UTC)
@अनिरुद्ध कुमार, @नीलम: जी, यदि चौपाल की सूचना पुरालेख में गुम हो जाने की समस्या है तो एक श्रेणी पहले से ही बनी हुई है श्रेणी:विषयसूची - फाइल ठीक करने के लिए। फिलहाल इसका प्रयोग हम कर सकते हैं। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) ०४:५०, २५ अगस्त २०२० (UTC)
@अजीत कुमार तिवारी: जी, सुझाव उचित है किंतु विषयसूची पृष्ठ पर श्रेणी लगाने से उन पृष्ठों का पता कैसे चलेगा जो छूट गए हैं? यह समस्या कई पुस्तकों के साथ हो सकती है इसलिए यह श्रेणी लगाने के साथ छूट गए पृष्ठों की सूचना देने के लिए कोई एक पृष्ठ जरूर होना चाहिए। --नीलम (वार्ता) ०८:४३, २५ अगस्त २०२० (UTC)
@नीलम: जी, विषयसूची पृष्ठ के वार्ता पृष्ठ का उपयोग इस कार्य के लिए किया जा सकता है। हमें इससे यह पता रहेगा कि फाइल विशेष में समस्या है और उसे बेहतर फाइल के साथ बदलना है। उसके वार्ता पृष्ठ से यह जानकारी मिल सकती है कि समस्या विशेष क्या है या किन पृष्ठों में है। बाक़ी जैसा आप लोगों को उचित लगे कर लीजिए। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) ०८:५१, २५ अगस्त २०२० (UTC)
सदस्यों की टिप्पणियों में आए सभी विचारों को लागू करते हुए निम्न रास्ते निर्धारित किए जा रहे हैं:
  1. लक्षित कार्य के लिए पृष्ठ बनाकर इसे चौपाल में सबसे ऊपर दूतावास के दाहिने जोड़ दिया गया है। इस पृष्ठ पर सभी छूटे पृष्ठ संबंधी एवं अन्य लंबित मगर जरूरी कार्यों की सूचना दी जा सकेगी।
  • श्रेणी:छूटे स्कैन पृष्ठ बनायी गई है जिसे ऐसे सभी परापूर्ण पृष्ठों पर जोड़ा जाना चाहिए जिसके स्रोत पृष्ठ छूटे हुए हों। इससे इस तरह के सभी पृ,्ठ एक ही श्रेणी में देखे जा सकेंगें।
  • लक्षित पृष्ठ की सूचनाओं एवं चर्चाओं को पुस्तक के वार्ता पृष्ठ पर भी प्रकाशित किया जाएगा जिससे कि यह भविष्य में पुस्तक पर कार्य करने वालों के लिए सहायक हो सके। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०४:०१, ११ अक्टूबर २०२० (UTC)
उपरोक्त चर्चा को एक पुरालेख के रूप में संरक्षित किया गया है। कृपया इसमें कोई बदलाव न करें। आगे की वार्ताएँ इस पृष्ठ पर नये विभागों में होनी चाहिएँ


सितंबर के निर्वाचित पाठ के लिए 'हिन्दी भाषा की उत्पत्ति' का नामांकन[सम्पादन]

सितंबर माह के निर्वाचित पाठ के लिए हिन्दी भाषा की उत्पत्ति का नामांकन किया गया है। सदस्यों से इसपर विकिस्रोत:निर्वाचित पाठ उम्मीदवार पृष्ठ पर अपनी राय देने तथा इसके सुधार में सहयोग करने का अनुरोध है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) १३:२२, २३ अगस्त २०२० (UTC)

अक्टूबर के निर्वाचित पाठ के लिए सहयोग करें[सम्पादन]

अक्टूबर के निर्वाचित पाठ बनाने के लिए हिन्दी साहित्य का इतिहास को प्रस्तावित करने की योजना है किंतु इसे अभी सुधारने की जरूरत है। रामचंद्र शुक्ल के जन्म के मास के निर्वाचित पुस्तक के रूप में इस पुस्तक को लगाने के लिए सदस्यों से इसे पढ़ने और सुधारने का अनुरोध है यदि आपके पास कोई बेहतर विकल्प हो तो उसे भी सुझा सकते हैं। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) २२:५४, १२ सितम्बर २०२० (UTC)

अभी हिन्दी साहित्य का इतिहास को सुधारने में बहुत वक़्त लग सकता है। बेहतर तो यही रहेगा कि हम इस पुस्तक को अध्यायवार "आज का पाठ" के अंतर्गत ही क्रमबद्ध तरीक़े से सुधारते रहें। अगले माह के लिए भ्रमरगीत-सार एक विकल्प हो सकता है। मैं इसके बाक़ी बचे पन्ने २३ सितम्बर तक सुधारने का दायित्व लेता हूँ। कोई अन्य बेहतर सुझाव आएं तो हम उस पर भी विचार कर सकते हैं। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) १२:०६, १३ सितम्बर २०२० (UTC)
हाँ यदि भ्रमरगीत-सार का शोधन एवं परापूर्णन पूर्ण हो जाय तो यह भी निर्वाचित होने योग्य पुस्तक है। इसके बाद के पृष्ठों के अलावा लंबी भूमिका वाले शुरुआती पृष्ठ भी शोधित और परापूर्ण करना शेष है। हिंदी साहित्य का इतिहास को आज का पाठ के लिए तैयार करते जाने का विचार भी ठीक है। इस तरह कम-सेकम कुछ माह बाद यह पुस्तक भी निर्वाचित करने योग्य बन जाएगी। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) १९:३०, १३ सितम्बर २०२० (UTC)
भ्रमरगीत-सार एक अच्छा विकल्प है, इसके बचे हुए पृष्ठ को सुधारने का मैं भी प्रयास करूंगा और कोशिश रहेगी 23 सितंबर तक इसे पूर्ण कर लिया जाए।---रोहित(💌) १०:५०, १७ सितम्बर २०२० (UTC)

संपर्क सूत्र निर्वाचन सितंबर २०२० सूचना[सम्पादन]

हिंदी विकिमीडियन्स यूजर ग्रूप के वर्तमान संपर्क सूत्र नए संपर्क सूत्र के चुनाव की प्रक्रिया प्रारंभ कर रहे हैं। १५ दिनों की इस प्रक्रिया में अगले ७ दिन (२१ सितंबर २०२०) तक किसी भी न्यूनतम योग्यता रखने वाले सदस्य के द्वारा संपर्क सूत्र के लिए स्वयं को संपर्क सूत्र पृष्ठ पर नामांकित किया जा सकता है। सदस्य के द्वारा अगले १४ दिनों (२८ सितंबर २०२०) तक मत व्यक्त किया जा सकता है। निर्वाचन प्रक्रिया में भागीदारी के लिए सदस्यों का स्वागत है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) २२:५०, १४ सितम्बर २०२० (UTC)
संपर्क-सूत्र के लिए सदस्यों का प्रस्ताव प्राप्त न होने की स्थिति में निवर्तमान संपर्क सूत्र (अनिरुद्ध कुमार और संजीव कुमार) ने अगले एक वर्ष तक इस दायित्व को निभाने का निश्चय किया है। इसके बाद हम स्वयं ही नए सदस्यों के निर्वाचन का प्रस्ताव लेकर आएंगे। इससे पूर्व भी तीन सदस्य संपर्क-सूत्र बनने की इच्छा प्रकट करते हैं तो हम निर्वाचन प्रक्रिया पुनः शुरु करेंगे। इस संबंध में सदस्यों की सम्मति, सहमति या असहमति का स्वागत है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०७:५८, २३ अक्टूबर २०२० (UTC)

पेजलिस्ट विजिट अनुवाद सहायता[सम्पादन]

विकिस्रोत सदस्यों एवं प्रबंधकों से पेजलिस्ट लेबल के अनुवाद में सहायता का अनुरोध है। आप किसी भी लेबल के लिए उपयुक्त शब्द सुझा सकते हैं। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) १४:३६, १६ सितम्बर २०२० (UTC)

इस विजिट के अनुवाद करने तथा इसे संस्थापित करने के लिए अजीत जी धन्यवाद के पात्र हैं। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०७:१३, १७ सितम्बर २०२० (UTC)

एक वर्ष में सवालाख![सम्पादन]

लंबी प्रतीक्षा और सक्रियता के बाद १७ सितंबर २०१९ को हिंदी विकिस्रोत का यह स्वतंत्र डोमेन बनाया गया था। हमने मिलकर पिछले एक वर्ष में सवालाख पृष्ठ ओसीआर कर बीस हजार पृष्ठ शोधित किया है। हमारा स्कैन % ९९.९५ हो गया है। एक वर्ष की उपलब्धियों के लिए यह तालिका देखें-

भाषा कुल पृष्ठ अशोधित समस्याकारक सादा पृष्ठ शोधित प्रमाणित परापूर्ण पृष्ठ स्कैन सहित बिना स्कैन बहुवैकल्पिक स्कैन %
hi १२५१५५ १०२३०१ ११४ १८८५ २०८५५ ७३५७ १८३१ १८३० ९९.९५

इस बहुमूल्य उपलब्धि के लिए सभी विकिस्रोत साथियों को बधाई। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०७:१८, १७ सितम्बर २०२० (UTC)

हिंदी विकिस्रोत को स्वतंत्र डोमेन प्राप्त होने की पहली वर्षगाँठ पर ढेरों बधाइयाँ। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) ०८:३९, १७ सितम्बर २०२० (UTC)
सभी को बधाईयाँ💐---रोहित(💌) १०:५२, १७ सितम्बर २०२० (UTC)
हिंदी विकिस्रोत के एक वर्ष पूरे होने पर सभी सदस्यों को बधाइयाँ। साथ ही उपरोक्त आँकड़े एक ऐसी सुखद उपलब्धि भी प्रदर्शित कर रहे जिसके लिए यहाँ योगदान करने वाले सदस्यगण बधाई और सराहना के पात्र हैं।
अब हमारे पास इतनी पुस्तकें हैं कि हम उनकी कड़ियों को विकिपीडिया के लेखों में प्रयुक्त कर सकते हैं; संदर्भ के रूप में भी और बाहरी कड़ियों के रूप में भी। इससे अन्य विकि-परियोजनाएँ भी समृद्ध होंगी और हमारे विकिस्रोत की दृश्यता भी बढ़ेगी। उदाहरण के लिए हमारी हिंदी विकिपीडिया पर साँचा:Wikisourcelang उपलब्ध है जिसके प्रयोग से हम वहाँ संबंधित लेखों में अपनी पुस्तकों की कड़ियाँ जोड़ सकते हैं।
इसका प्रयोग अत्यंत सरल है। यदि विकिपीडिया के लेख और यहाँ विकिस्रोत के पन्ने का नाम एक ही वर्तनी के साथ है तो हमें विकिपीडिया के लेख के "बाहरी कड़ियाँ" अनुभाग में मात्र {{Wikisourcelang|hi|}} लिख देना है। दूसरी स्थिति में, जब विकिपीडिया का लेख और यहाँ का पृष्ठ अलग-अलग नामों से हो, हमें {{Wikisourcelang|hi|यहाँ के पृष्ठ का नाम}} लिखना है। दोनों के उदाहरण संपादन1 और संपादन2 में देखे जा सकते हैं।
यह कार्य यहाँ सक्रिय सदस्य बेहतर ढंग से कर सकते हैं क्योंकि उन्हें यहाँ उपलब्ध पुस्तकों के बारे में केवल विकिपीडिया पर अधिक सक्रिय रहने वाले सदस्यों से अधिक बेहतर जानकारी होगी।
एक बार फिर सभी को बधाई और शुभकामनाएँ।--SM7--बातचीत-- ०३:४६, १९ सितम्बर २०२० (UTC)
एसएम७ जी की यह बात मानने योग्य है। बल्कि हमें कम से कम पूरी तरह तैयार पुस्तकों के लिए इसे अनिवार्य समझना चाहिए। हम इसे निर्वाचित पाठ की नियमावली में भी शामिल कर सकते हैं। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०६:३६, २१ सितम्बर २०२० (UTC)

आज का पाठ के स्वरूप में परिवर्तन[सम्पादन]

आज का पाठ के लिए बनने वाले पृष्ठों के स्वरूप में परिवर्तन किया गया है। अब हमें "विकिस्रोत:आज का पाठ-२४ सितंबर २०२०" के बजाय "विकिस्रोत:आज का पाठ/२४ सितम्बर" के रूप में दिनों से संबंधित पाठ के पृष्ठ बनाने हैं। ऐसा करने से ये पृष्ठ अगले वर्ष के लिए स्वतः ही उपयोगी बने रहेंगें। हम जरूरत पड़ने पर इन्हें बदल सकते हैं अन्यथा ये स्वतः ही मुखपृष्ठ के ाज का पाठ अनुभाग में लग जाएंगें। इस परिवर्तन से संबंधित सदस्यों की राय का स्वागत है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) २३:५८, २३ सितम्बर २०२० (UTC)
विचार अच्छा है क्योंकि कई दिन किसी ख़ास व्यक्ति या घटना से संबंधित होते हैं(जैसे गांधी जयंती) और वें हर वर्ष उसी दिन पर आते हैं तो ऐसे में उन्हें बार-बार नामांकन नहीं करना होगा।---रोहित(💌) २१:३७, २४ सितम्बर २०२० (UTC)

अगले सप्ताह की पुस्तक सुझाएं[सम्पादन]

८ अक्टूबर को प्रेमचंद का निधन हुआ था। इससे संबंधित अगले सप्ताह की पुस्तक सुझाएं। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०१:०७, ७ अक्टूबर २०२० (UTC)

YesY पूर्ण हुआ सेवासदन को सप्ताह की पुस्तक बना दिया गया है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) १०:५५, १० अक्टूबर २०२० (UTC)


२००० परापूर्ण पृष्ठ[सम्पादन]

२०१९ की विजयादशमी से शुरु करके पिछले एक वर्ष में हमने दो हजार परापूर्ण पृष्ठों का लक्ष्य भी हासिल कर लिया है। इसके लिए सभी सक्रिय सदस्यों को बधाई एवं धन्यवाद। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ००:१६, २६ अक्टूबर २०२० (UTC)

भारतीय विकिस्रोत संपादनोत्सव २०२० में भाग लें[सम्पादन]

हिंदी विकिस्रोत पर १ नवंबर से शुरु होने वाली भारतीय विकिस्रोत संपादनोत्सव २०२० में शामिल होकर पुरस्कार जीतें। इसके लिए आप उक्त पृष्ठ पर प्रतिभागियों की सूची में अपना हस्ताक्षर करें तथा दिए हुए पुस्तकों की सूची में से किसी एक को अच्छी तरह शोधित करने का कार्य १ नवंबर २०२० को प्रातः ५:३० के बाद शुरु करें। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) १७:३८, ३० अक्टूबर २०२० (UTC)

संपादनोत्सव सहायता[सम्पादन]

इस अनुभाग में १ से १५ नवंबर तक चलने वाली प्रतियोगिता के दौरान होने वाली समस्याओं की ओर तत्काल प्रबंधकों का ध्यान खींचने के लिए संदेश लिख सकते हैं। हालांकि यह कार्य संपादनोत्सव पृष्ठ के वार्ता पृष्ठ या प्रबंधकों के वार्ता पृष्ठ पर भी किया जा सकता है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०१:२१, ३ नवम्बर २०२० (UTC)
क्या मैं अतीत-स्मृति पुस्तक में संपादन-कार्य कर सकती हूँ? १९३० में प्रकाशित इस पुस्तक के रचनाकार महावीर प्रसाद द्विवेदी की मृत्यु १९३८ में हुई थी।--नीलम (वार्ता) ०४:०९, ३ नवम्बर २०२० (UTC)
हाँ। आप इसपर काम कर सकती हैं। मैं इसे पुस्तक सूची में जोड़ दे रहा हूँ। १९४१ ई. से पूर्व प्रकाशित होने वाली पुस्तकें जिनके लेखक का निधन भी १९४० ई. से पूर्व हुआ हो उनपर इस संपादनोत्सव में काम किया जा सकता है। अपनी एक पुस्तक पूरी करने के बाद आप दी गई पुस्तक सूची में से भी पुस्तकें चुन सकती हैं। नई पुस्तक का अनुरोध करना भी ठीक है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०४:१९, ३ नवम्बर २०२० (UTC)
@नीलम, @अनिरुद्ध कुमार: मेटाडेटा और पेजलिस्ट अद्यतन करके अतीत-स्मृति को प्रतियोगिता की पुस्तक-सूची में लगा दिया गया है। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) ०५:०८, ३ नवम्बर २०२० (UTC)
क्या मैं उपहार पुस्तक में संपादन कार्य कर सकती हूँ? १९३४ में प्रकाशित इस पुस्तक के रचयिता सुभद्रा कुमारी चौहान है।--मनिषा यादव (वार्ता) ०५:४१, ३ नवम्बर २०२० (UTC)
@Manisha yadav12: नहीं। आप दी गई सूची में शामिल पुस्तकों में से चुनें। नई पुस्तकों के प्रस्ताव के लिए कॉमन्स पर अपलोड की नियमावली देखें। फिलहाल उपहार स्थानीय स्तर पर अपलोड नहीं है। कॉमन्स के अनुसार इसके लेखक का निधन १९४१ के पूर्व हुआ होता या प्रकाशन १९२५ के पूर्व रहता तो किया जा सकता था। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) ०६:०१, ३ नवम्बर २०२० (UTC)
कृपया कामना और विवेकानंद ग्रंथावली खंड 3 पुस्तक को सूची में जोड़ दें।--नीलम (वार्ता) ०४:०१, ४ नवम्बर २०२० (UTC)
विवेकानंद ग्रंथावली खंड 3 पुस्तक सूची में नहीं जोड़ी जाएगी। अनुवाद के संबंध में पुस्तक को या तो १९२५ के पूर्व प्रकाशित होना चाहिए या अनुवादक की मृत्यु १९४१ के पूर्व हो चुकी हो। कामना को शीघ्रातिशीघ्र जोड़ दिया जाएगा। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) ०५:१५, ४ नवम्बर २०२० (UTC)
सर मैं भारतेंदु नाटकावली पुस्तक पर कार्यरत हूँ परन्तु प्रूफरीड करते समय साँचे की दिक्कते आ रही है मैं जिन साँचो से अवगत हूँ मैं उनका प्रयोग कर रही हूँ अगर वह सही साँचा न हो तो क्या मेरा अंक ऋणात्मक हो सकता है?--मनिषा यादव (वार्ता) ०६:२९, ७ नवम्बर २०२० (UTC)
@Manisha yadav12:, आपसे अनजाने में होने वाली गलतियों के लिए अंक नहीं काटे जाएंगें। केवल सूचना या संदेश देने के बाद भी गलती जारी रखने की स्थिति में अंक काटे जाएंगें। साफ और स्पष्ट पृष्ठों को शोधित करने में रहने वाली गलतियों पर भी अंक काटे जाएंगें। हम एक दो गलतियों को ही नजरंदाज कर सकते हैं अधिक अशुद्धियों को नहीं। हम आपको तथा सभी प्रतिभागियों को बिना चिंता किए सही ढंग से पृष्ठ शोधित करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं तथा आप सबके द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हैं और प्रतिस्पर्धा में पड़कर लापरवाही करने के लिए सचेत भी। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०२:५१, १२ नवम्बर २०२० (UTC)
@अनिरुद्ध कुमार:, जी सर आगे से इन बातों का ध्यान रहेगा। मार्गदर्शन करने के लिए धन्यवाद।--मनिषा यादव (वार्ता) ०३:०८, १२ नवम्बर २०२० (UTC)

गलत परीक्षण न करें।[सम्पादन]

प्रतिभागी प्रतिस्पर्धा के कारण जल्दी संपादन करने तथा अधिक गलतियों वाले पृष्ठों को परीक्षित चिह्नित करने लगे हैं। ऐसी गलतियाँ लगातार किए जाने पर अगले दो दिनों के लिए वे प्रतिबंधित किए जाएंगें। प्रतिभागियों से अनुरोध है कि वे नया पृष्ठ परीक्षण करने के बजाय अपने पुराने गलत परीक्षण किए गए पृष्ठों को सुधारने पर ध्यान दें। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०२:०६, १४ नवम्बर २०२० (UTC)


दिसंबर की निर्वाचित पुस्तक चुनें[सम्पादन]

हम दिसंबर के लिए साफ़ माथे का समाज को निर्वाचित पुस्तक बना सकते हैं। यह शोधित हो चुकी है तथा इसे हम सब मिलकर १ दिसंबर से पूर्व प्रमाणित कर सकते हैं। यह पर्यावरण से संबंधित पहली निर्वाचित पुस्तक होगी। सदस्यों की इससे संबंधित राय या अन्य पुस्तकों के सुझावों का स्वागत है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०२:२३, २४ नवम्बर २०२० (UTC)

जनवरी की निर्वाचित पुस्तक चुनें[सम्पादन]

जनवरी माह के लिए हड़ताल को निर्वाचित पुस्तक बनाया जा सकता है या दुखी भारत और उपयोगितावाद में से किसी एक पुस्तक को भी निर्वाचित किया जा सकता है किंतु ये दोनों पुस्तकें प्रमाणित नहीं हैं। यदि सदस्यों का सहयोग हो तो इनमें से किसी एक पुस्तक को प्रमाणित करके उसे निर्वाचन योग्य बनाया जा सकता है। यदि सदस्य चाहें तो किसी अन्य पुस्तक का नाम भी सुझा सकते हैं। इस संबंध में सदस्यों के सुझाव और सहयोग का स्वागत है। --नीलम (वार्ता) १७:०८, २६ दिसम्बर २०२० (UTC)

हड़ताल को निर्वाचित पुस्तक बनाना उचित है। स्त्री पराधीनता तथा उपयोगितावाद को प्रमाणित करने का कार्य पूरा कर हम मार्च और मई में निर्वाचित कर सकते हैं। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०१:४६, १ जनवरी २०२१ (UTC)

मुखपृष्ठ रचनाकार स्तंभ सुझाव[सम्पादन]

रचनाकार स्तंभ को गतिशील बनाने की सामग्री हमारे पास हो गई है। मुझे लगता है कि अब हमें इसे हर माह बदलना चाहिए तथा उस माह में जन्म या निधन वाले लेखकों को उनके पुस्तकों के साथ प्रदर्शित करना चाहिए। उदाहरण के लिए जनवरी में जयशंकर प्रसाद (जन्म ३० जनवरी) तथा फरवरी में चतुरसेन शास्त्री (निधन २ फरवरी) आदि लेखक प्रदर्शित किए जा सकते हैं। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) १४:३७, १५ जनवरी २०२१ (UTC)

मुखपृष्ठ की विविधता और गतिशीलता बनाए रखने के लिए यह प्रयास सराहनीय है। इसे तत्काल प्रभाव से लागू किया जा सकता है। --अजीत कुमार तिवारी (वार्ता) १७:१२, १५ जनवरी २०२१ (UTC)

टिप्पणी के लिए अनुरोध-प्रूफरीड-ए-थान प्रतियोगिता[सम्पादन]

नमस्ते दोस्तो,

मैंने यहां चर्चा और सलाह के लिए अनुरोध शुरू किया है। पिछले साल हमने दो प्रूफरीड-ए-थान प्रतियोगिता आयोजित की थी। भारतीय भाषा विकीसोर्स के भविष्य के विजन को सेट करने के लिए आपकी प्रतिक्रिया और टिप्पणियों की बहुत आवश्यकता है। चर्चा करने के लिए अंग्रेजी एक आम भाषा हो सकती है, पर अगर आप अपनी मूल भाषा में लिखना चाहते है तो आपका स्वागत है।

इंडिक विकिसोर्स कम्युनिटी की ओर से

जयंता नाथ ११:४५, २३ जनवरी २०२१ (UTC)

मार्च २०२१ की निर्वाचित पुस्तक उम्मीदवार पर राय दें[सम्पादन]

विकिस्रोत:निर्वाचित पाठ उम्मीदवार पृष्ठ पर मार्च २०२१ के लिए स्त्रियों की पराधीनता को निर्वाचित पुस्तक उम्मीदवार बनाया गया है। इस प्रस्ताव पर सदस्यों की राय का स्वागत है।अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ००:२४, २७ फ़रवरी २०२१ (UTC)

२५०० परापूर्ण पृष्ठ[सम्पादन]

आज २०२१ की होली के दिन पिछले डेढ़ वर्ष में हमने ढाई हजार परापूर्ण पृष्ठों का लक्ष्य हासिल कर लिया है। इसके लिए सभी सक्रिय सदस्यों को बधाई एवं धन्यवाद। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०७:४५, २९ मार्च २०२१ (UTC)

अप्रैल २०२१ की निर्वाचित पुस्तक उम्मीदवार पर राय दें[सम्पादन]

विकिस्रोत:निर्वाचित पाठ उम्मीदवार पृष्ठ पर अप्रैल २०२१ के लिए चोखे चौपदे को निर्वाचित पुस्तक उम्मीदवार बनाया गया है। इस प्रस्ताव पर सदस्यों की राय का स्वागत है। अनिरुद्ध कुमार (वार्ता) ०७:४०, २९ मार्च २०२१ (UTC)