पृष्ठ:अद्भुत आलाप.djvu/७

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।


अद्भुत आलाप
१--एक योगी की साप्ताहिक समाधि

आश्चर्य की बात है कि इस देश में अनेक अद्भुत अद्भुत घटनाएँ होती हैं; पर यहाँ के पढ़े-लिखे आदमियों में उत्साह और प्रबंध-रचना में रुचि न होने के कारण वे यहाँ के किसी पत्र या पुस्तक में नहीं प्रकाशित होती। वे हज़ारों कोस दूर, सात समुद्र पार, योरप और अमेरिका पहुँचती हैं। वहाँ के अखबारों द्वारा वे फिर इस देश में आती हैं। तब हम लोग उनकी नक़ल करके अपने को कृतार्थ मानते हैं।

योग इस देश की विद्या है। यद्यपि उसका प्रायः सर्वथा नाश हो गया है, तथापि अब भी ढूँढ़ने से कहीं-कहीं सच्चे योगी देख पड़ते हैं। अभी, बहुत समय नहीं हुआ, एक योगी हरद्वार में सात दिन की समाधि धारण करके पृथ्वी के पेट में गड़ा रहा था। उस समय हरद्वार में एक अमेरिका-निवासी विज्ञान-विशारद भी मौजूद थे। आपका नाम है डॉक्टर ब्राउन। प्राकृतिक विज्ञान के आप आचार्य हैं। कई प्रसिद्ध वैज्ञानिक सभाओं के मेंबर हैं। आपने इस समाधि का हाल ४ मार्च, १९०६ को 'संडे-मैगज़ीन' नामक अमेरिका की एक सामयिक