पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/१५२

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


चांदी की डिबिया मिसेज़ बार्थिविक तुम्हारा मतलब है कि क्या किसी दूसरे की थेली थी और उसे इस बदमाश ने उड़ा ली ? बाणिविक जी हां ! थैली उसने उड़ा ली । जोन्स वह आदमी नहीं है कि इस बात पर परदा डाल दे । वह इसे .खूब नमक मिर्च लगाकर बयान करेगा। समाचारपत्रों में इसकी चर्चा होगी। मिसेज़ वार्थिविक मेरी समझ में कुछ नहीं पा रहा है। किस बात का यह सब किस्सा है ? [जैक के ऊपर झुककर प्यार से ] जैक, वेटा, बताओ तो क्या बात है । डरो मत । साफ़ साफ़ बतादो, बात क्या है ? जैक अम्मा, ऐसी बातें न करो ! १४४