पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/१५३

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


'चांदी की डिबिया मिसेज बार्थिविक कैसी बात, बेटा? जैक कुछ नहीं, यों ही । मुझे कुछ याद नहीं कि वह चीज़ मेरे पास कैसे आगई । मुझसे और उससे एक पकड़ हो गई-मुझे कुछ ख़बर न थी कि मैं क्या कर रहा हूँ-मैंने-मैंने-शायद मैंने-तुम समझ गई होगी-शायद मैंने थैली उसके हाथ से छीन ली। मिसेज़ बार्थिविक उसके हाथ से ? किसके हाथ से ? कैसी थैली ? किसकी थैली? जैक अजी, मुझे कुछ याद नहीं- [ निराश और अची आवाज़ में ] किसी औरत की थैली थी।