पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/२१५

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


दृश्य ] चाँदी की डिबियाः [स्नो गवाहों के कठघरे से चला जाता है। गंजा कांस्टेबिल जैक को इशारे से बुलाता है और वह अपनी टोपी लिए गवाहों के कठघरे में आता है। रोपर मेज़ के पास चला पाता है जो वकीलों के लिए अलग की हुई है। ] हलफ़ देनेवाला क्लार्क तुम अदालत के सामने जो बयान दोगे उसे सच होना चाहिए बिलकुल सच होना चाहिए और सिवा सच के कुछ न होना चाहिए। ईश्वर तुम्हारी मदद करे। इस किताब को चूमो। [ जैक किताब चूमता है।] रोपर [जिरह करते हुए] तुम्हारा क्या नाम है ? जैक [धीमी आवाज़ में] जॉन बार्थिविक जूनियर । २०७