पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/२२

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
चाँदी की डिबिया
[ अङ्क १
 

हीलर

शुहदा है, शुहदा, मुझे विश्वास है, कि तुम्हारे शौहर की तरह इसने भी रात को पी थी। इसकी बेकारी एक दूसरी ही तरह की है, जिसमें पीने ही की सूझती है। जाकर मारलो से कह आऊँ, यह उसका काम है।

[ वह चली जाती है ]

[ मिसेज़ जोन्स झुककर धीरे-धीरे झाड़ू देने लगती है।]

जैक

[ जाग कर। ]

कौन है? क्या बात है?

मिसेज़ जोन्स

मैं हूँ सरकार, मिसेज़ जोन्स।

जैक

[ठउ बैठता है, और चारों तरफ़ ताकता है। ]

१४