पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/२३

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
दृश्य २ ]
चाँदी की डिबिया
 

मै कहाँ हूं? क्या वक्त है?

मिसेज जोन्स

नौ का अमल होगा हुज़ूर। नौ

जैक

नौ! क्यों? क्या?

[ उठ कर ज़बान चलाता है और सिर पर हाथ फेरकर मिसेज़ जोन्स की तरफ़ घूरकर देखता है। ]

देखो तुम मिसेज़ जोन्स, यह न कहना कि तुमने मुझे यहाँ सोते पाया।

मिसेज़ जोन्स

न कहूँगी, न कहूँगी सरकार।

जैक

इत्तफ़ाक की बात है! मुझे याद नहीं आता कि मैं यहाँ कैसे सो गया। शायद मैं चारपाई

१५