पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/२३५

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


हृश्य २] चांदी की डिविच [याधिविक असमंजस में पड़ जाता है। फिर हिम्मत हारकर, लज्जित भाव से इंकार का संकेत करता है और जल्दी से चहरी से चला जाता है। मिसेज़ जोन्स उसकी तरफ वडीरह जाती है। परदा गिरता है।