पृष्ठ:राबिन्सन-क्रूसो.djvu/१८७

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
राबिन्सन क्रूसो
 
राबिन्सन-क्रूसो.djvu

उसने धरती छूकर बड़े विनीत भाव से प्रणाम किया और मेरा पैर उठा कर अपने सिर पर रक्खा।-पृ॰ १६७