पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष विंशति भाग.djvu/२७

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


२४ रोम-साम्राज्य पुत्रको बहुत प्यार करता था। इस लड़गकाल रपया धा, नेमबसे धनी पारे जाते थे। पांवयों श्रेणी अद्भत घटनाओले पूर्ण है । एक दिन मनियरके , के लोगों के पास १२००) रुपया रहता था। विडीने में आग लग गई। विछीना जलने लगा। इसी पर इस शासन संहारक वाद सर्मियमने रोम नगर यह वाला सोया हुआ था। पिछीनने भागको स्पट फी नीमा द्धि की। पाले 'पमरिगम' नगरकी निर्दिय अभी सही, किन्तु लहको स्पर्श न कर सकी। यद देग्न पवित्र परिधि थी ! बर काग्निट, मिमिनेट और कर टाडनपनी टार्नाकालने विम्मित भावसे पाहा, , परन्टेन पर्वन :म नगरकी सीमा मानर्गन मा गरे। यह बालक अपनी अवस्थामै सम्राट होगा । उस समयमे ' इस सीमाके चारों और पत्थरगी गंवाकी बहारदीवारी उस बालको पोचपुत्रकी तरह पालन करने लगा और उठा दो नामको लोग सर्मियससी नदारदीवारी अपनी कन्या के साथ उनका विवाह कर दिया। कहते है। इस साय रोगको परिधि ५ मीलको हो। भूनपूर्वा राजा बहास रशियसने पुत्रों ने देरग, नगरने बाहरी दरवाजे पर पक मोल दम्या पक प्रकाण्ड कि भविष्य में यही दामाद राजनिहालन अधिकार पनप तैयार हुआ और १०० फुट बीडो २० फुट गहरी करेगा। इसलिये रमने राजाको गुम्मस्पले मार डालने के ' एक बाई मोदी गई। गेमके सम्राटो शासनकाल लिये दो आदी नियुन मिचे। इनमें एकके ही कुठारा- तक वही नगरको सीमा निर्दिष्ट थी। इस घटना के घानसे याक टन नावानिक चोटले थाहन या । किन्तु वाद सर्मियमने लाटियमके अपर प्रदेशों के अधि. अदास मर्शियस के पुतन गुप्तइत्याका फल लाम नही चामियों को रोममें मिला कर उनको समान अधिकार कर सके । बुद्धिमनी सनो टोनाइलने साधारण प्रजामें दिया । यह प्रचार कर दिया, कि टाकुंदनी चोट सांघातिक पूर्वांत ज्येष्ठ टापु दनः दो पुत्रों के साथ तसि . नहीं है । यह शीनही माराम होगा । इयर अपने प्रिय- ' को दो कन्याओंश ग्विाह गुदा। इनमे ज्येष्ठ पुत्र पोप्यपुत्र गर्मियसको राजकार्या करनेका हुक्म दिया ।। ल्यूनियस निरनिका था, किन्तु उसको यो अत्यन्त सनियस भी प्रतारखनके गुणले घोड़े ही समय : फोमल प्रकृतिकी थी। छोटा लडका मांस अत्यल प्रजाप्रिय हो उठा। किन्तु टाकुइनको मृत्युमा संवाद : नत्र और धार्मिक था । फिर भी उसकी यो टालिया अधिक दिन तक गुप्त न रह सका । जय टारकुश्नका ' अत्यन्त फर प्रकृति तथा उच्चाभिन्दारिणी थी। इस मृत्युसंवाद प्रकाशित हो गया, प्रकाश्यरूपसे सर्सियस . मग तथा विपम प्रगतिका भीषण परिणाम प्रा। राजसिहासन पर बैठा। ल्यूशियसने बानी धर्मनीला पत्नीशे मार डाला। ___ समिनस टल्लियस ( ५७८ ५५१० पू०) उधर साल्लियाने अपने पतिका प्राणहरण किया। अदल्यू छठे राजा सर्जियमको साधारणके निर्वाचनके फलसे, शियसने बड़ी खुशी के साथ अपनी अनुजपन्नी व्यशि- राजसिंहासन मिला। उसके सब संस्कारों में शासन । यसने टाहिराके साथ विवाह किया। किसीने भी संस्कार सबसे उत्तम है। वहाका शासन पहले आमि- । पति और पत्नीको हत्या पर जरा भी शोक प्रकटन जात्यवंशगत था, किन्तु इसके समयमे वह धनगत किया। हुआ । यहां के लोगों में यह इच्छा बलवती हुई, कि धन . सर्मियसी प्रिय पुत्री टानिया पतिकी हत्या और कमानेसे मैं कुलीन न होऊंगा। रोमका धनभण्डार मैसुरते विवाह कर अपने पिताको प्रत्याशी फिक्रमें शिल्प वाणिज्य कृषिसे उत्पन्न धनसे परिपूर्ण होने लगो।। लगी। अन्तमें इन दोनों पति पत्नीने सभियाका प्राण- सर्गियसने रोमकों को चार भागों में विभक किया। नाश कर दिया। जिस समय टाल्यिा गाड़ी पर चढ़ इसके बाद उसने सबसे पहले मर्दुमशुमारो कर सम्प । कर घर लौट रही थी, उसी समय लहुलुहान सर्भि- त्तिका मूल्य निर्धारित किया। उन चारो विभाग धन- । यसको शवदेह सड़क पर छटपटा रही थी। कोचवान • गत थे। जिनके पास एक लान या इससे अधिक ने यह देख कर घोडे की रश्मी रोंक दो। किन्तु उपयुक