पृष्ठ:Antarrashtriya Gyankosh.pdf/३२

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
२६
अल्जीरिया
 


करना चाहते हैं। यहाँ यह स्पष्ट समझ लेना चाहिये कि अराजकतावाद किसी ऐसी अराजकता का समर्थन नहीं करता जिससे सामाजिक व्यवस्था अस्तव्यस्त होजाय। प्रत्युत् उसका लक्ष्य तो एक आदर्श समाज की स्थापना है। कुछ मनचले अराजकतावादियो ने, इस सिद्धान्त को ही ठीक तरह न समझने के कारण, आतंकवाद को ही अपना लक्ष्य बना लिया और राजाओं, शासको और बड़े-बड़े अफसरों पर बम फेंकना अपना मन्तव्य समझ लिया।

भारतवर्ष में भी, दूसरे कारणों से सही, यूरोप के तथाकथित अराजकतावादियो की नक़ल की गई। अराजकतावादी नेता बड़े उच्चकोटि के आदर्श महापुरुष है। उनका जीवन वास्तव में बड़ा ही पवित्र और सात्विक रहा है। प्रमुख नेताओं में विलियम गोडविन (१७५६-१८३६), मैक्स स्टर्नर (१८०६-१८५६), पियरे जोसफ (१८०९-१८६५), माइकेल वेक्निन (१८१४-१८७६), प्रिंस क्रोपाटकिन (१८४२-१९२१), टाल्सटाय (१८२८-१९१०), आदि उल्लेखनीय हैं।


अल्जीरिया—यह उत्तरी अफ्रीका में फ्रांसीसी अधिकृत प्रदेश है। इसका क्षेत्रफल ८,४५,००० वर्गमील है और जनसंख्या ७२,५०,००० है।

Antarrashtriya Gyankosh.pdf

इनमे से १०,००,००० फ्रांसीसी तथा शेष अरब हैं। यह देश उत्तरी तथा दक्षिणी दो प्रदेशो में विभाजित है। उत्तरी प्रदेश में २,२२,००० वर्गमील भूमि तथा दक्षिणी प्रदेश में ६,२३,००० वर्गमील भूमि है। उत्तरी प्रदेश से धारासभा के लिए १० प्रतिनिधि चुने जाते हैं। फ्रांसीसी गवर्नर-जनरल को यहाँ सर्वोच्च सत्ता प्राप्त है। वह फ्रांस के गृह मंत्री के प्रति उत्तरदायी होता है। यह देश न तो फ्रांस का उपनिवेश है, और न यह फ्रांस का अंग ही है। इसकी