लेखक:किशोरीलाल गोस्वामी

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
रचनाकार किशोरीलाल गोस्वामी
किशोरीलाल गोस्वामी
(1865–)
    किशोरी लाल गोस्वामी (१८६५ - १९३२ ई०) हिंदी के कहानीकार तथा उपन्यासकार थे। काशी में जन्मे गोस्वामीजी

    की पहली कहानी "इन्दुमती", सरस्वती पत्रिका में सम्बत् १९५७ में प्रकाशित हुई।[१] इन्होंने उपन्यास मासिक पत्र का प्रकाशन १८९८ ई० में प्रारम्भ किया। इन्होंने लगभग ६० उपन्यास लिखे। इनके उपन्यासों में 'रजिया बेगम', "त्रिवेणी", "प्रणयिनी परिणय", 'लवंग लता', 'आदर्श बाला', 'रंग महल में हलाहल', 'मालती माधव', 'मदनमोहिनी' तथा 'गुलबहार' प्रमुख हैं। इनका निधन सन् १९३२ ई० में हुआ।
    Speaker Icon.svg one or more chapters are available in a spoken word format.

    Open book Scans

    रचनाएं[सम्पादन]

    उपन्यास[सम्पादन]

    कहानी संग्रह[सम्पादन]

    अन्य[सम्पादन]

    संचयन[सम्पादन]

    रचनाएं किशोरीलाल गोस्वामी संबंधित[सम्पादन]

    जीवनवृत्तात्मक आलेख[सम्पादन]

    साहित्यिक आलोचना[सम्पादन]

    1. हिन्दी साहित्य का इतिहास, आचार्य रामचन्द्र शुक्ल, नागरी प्रचारिणी सभा काशी, सम्वत् २०३८ वि०, पृष्ठ ३४३