सामग्री पर जाएँ

लेखक:सूर्यकान्त त्रिपाठी 'निराला'

विकिस्रोत से
सूर्यकांत त्रिपाठी निराला
(1896–1961)

हिंदी कवि, उपन्यासकार, कहानीकार और चिंतक जो छायावाद के साथ ही आधुनिक हिंदी कविता और गद्य के महानतम रचनाकारों में से एक माने जाते हैं।
one or more chapters are available in a spoken word format.

Open book Scans

सूर्यकांत त्रिपाठी निराला

रचनाएं[सम्पादन]

कविता[सम्पादन]

  1. अणिमा, (१९४३)
  2. अनामिका (१९२३)
  3. परिमल (१९३०)
  4. गीतिका (१९३६)
  5. अनामिका (द्वितीय) (१९३९)
  6. तुलसीदास (१९३९)
  7. कुकुरमुत्ता (१९४२)
  8. बेला (१९४६)
  9. नये पत्ते (१९४६)
  10. अर्चना(१९५०)
  11. आराधना (१९५३)
  12. गीत कुंज (१९५४)
  13. सांध्य काकली
  14. अपरा (संचयन)

कहानी[सम्पादन]

  1. चतुरी चमार, (१९४५) ['सखी' संग्रह की कहानियों का ही इस नये नाम से पुनर्प्रकाशन।]
  2. लिली (१९३४)
  3. सखी (१९३५)
  4. सुकुल की बीवी (१९४१)
  5. देवी (१९४८) [यह संग्रह वस्तुतः पूर्व प्रकाशित संग्रहों से संचयन है। इसमें एकमात्र

उपन्यास[सम्पादन]

  1. बिल्लेसुर बकरिहा, (१९४२)
  2. अप्सरा (१९३१)
  3. अलका (१९३३)
  4. प्रभावती (१९३६)
  5. निरुपमा (१९३६)
  6. कुल्ली भाट (१९३८-३९)
  7. चोटी की पकड़ (१९४६)
  8. काले कारनामे (१९५०) {अपूर्ण}
  9. चमेली (अपूर्ण)
  10. इन्दुलेखा
  11. तकनीकी

निबंध / आलोचना[सम्पादन]

  1. प्रबंध पद्म (१९३४)
  2. प्रबंध प्रतिमा (१९४०)
  3. चाबुक (१९४२)
  4. चयन निबंध संग्रह (१९५७)
  5. संग्रह (निबंध संग्रह) (१९६३

अनुवाद[सम्पादन]

  1. रामचरितमानस (विनय-भाग)-१९४८ (खड़ीबोली हिन्दी में पद्यानुवाद)
  2. आनंद मठ (बाङ्ला से गद्यानुवाद)
  3. विष वृक्ष
  4. कृष्णकांत का वसीयतनामा
  5. कपालकुंडला
  6. दुर्गेश नन्दिनी
  7. राज सिंह
  8. राजरानी
  9. देवी चौधरानी
  10. युगलांगुलीय
  11. चन्द्रशेखर
  12. रजनी
  13. श्रीरामकृष्णवचनामृत (तीन खण्डों में)
  14. परिव्राजक
  15. भारत में विवेकानंद
  16. राजयोग (अंशानुवाद)[१]

बाल साहित्य[सम्पादन]

  1. भक्त ध्रुव (१९२६)
  2. भक्त प्रहलाद (१९२६)
  3. भीष्म (१९२६)
  4. महाराणा प्रताप (१९२७)
  5. सीखभरी कहानियाँ (ईसप की नीतिकथाएँ) [१९६९][२]

निराला संबंधी रचनाएं[सम्पादन]

  1. निराला रचनावली, खण्ड-1, पूर्ववत्, पृष्ठ-16.
  2. निराला रचनावली, खण्ड-7, पूर्ववत्, पृ॰-15.