विकिस्रोत:सप्ताह की पुस्तक/३६

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search

Download this featured text as an EPUB file. Download this featured text as a RTF file. Download this featured text as a PDF. Download this featured text as a MOBI file. Grab a download!

Bharatendu Harishchandra 1976 stamp of India.jpg

नीलदेवी भारतेन्दु हरिश्चंद्र द्वारा १८८१ ई में लिखा गया गीतिरूपक है जो १९३५ ई. में इलाहाबाद के रामनारायण लाल द्वारा प्रकाशित भारतेंदु-नाटकावली में संकलित है।


पहला दृश्य
स्थान––हिमगिरि का शिखर
(तीन अप्सरा गान करती हुई दिखाई देती हैं)


अप्सरागण––(झिंझौटी जल्द तिताला)

धन धन भारत की छत्रानी।
वीरकन्यका वीरप्रसविनी वीरवधू जग-जानी॥
सतीसिरोमनि धरमधुरंधर बुधि-बल धीरज-खानी।
इनके जस की तिहूँ लोक में अमल धुजा फहरानी॥

..."(पूरा पढ़ें)