पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/१०९

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
दृश्य २ ]
चाँदी की डिबिया
 

मिसेज़ जोन्स

यह तो मैं जानती है कि तुम उन्हें प्यार करते हो।

जोन्स


[ थैली को उंगलियों पर फिराता हुआ, कुछ क्रोध से ]

अभी तो यों ही चलने दो। में न रहूंगा तो छोकरे तुम्हारे साथ बड़े मज़े में रहेंगे। अगर मैं जानता कि यह हाल होगा तो मैं एक को भी न पैदा करता। क्या फायदा है इससे कि लड़कों को पैदा करके इस विपत्ति में डाल दिया जाय?यह पाप है, और कुछ नहीं। लेकिन हमारी आखं बहुत देर में खुलती हैं। संसार का यही ढंग है।

[ थैली को फिर जेब में रख लेता है।

मिसेज़ जोन्स

हाँ, यह इन बेचारों के हक़ में बहुत अच्छा

१०१