पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/१३३

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ जाँच लिया गया।
दृश्य २ ]
चाँदी की डिबिया
 

बार्थिविक

शाबाश। आप भी एक गिलास पीजिये---

[ पोर्ट की बोतल को देखकर ]

शेरी की।

[ शेरी उंडेलता है,]

जैक, यह मिस्टर स्नो को दे दो।

[ जैक उठकर गिलास स्नो को दे देता है, तब अपनी कुर्सी पर पड़कर उसे आलस्य से देखता है। ]

स्नो

[ शराब पीकर और गिलास को नीचे रखकर ]

आपसे मिलने के बाद मैं उस औरत के डेरे पर गया। नीचों की बस्ती है। और मैंने सोचा कि ड्यौढ़ी के नीचे ही कानिस्टेबुल खड़ा

कर दूं। शायद ज़रूरत पड़े और मेरा विचार बिलकुल ठीक निकला।

१२५