पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/१६६

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


चांदी की डिबिया जैक पमा कल मेरा कचहरी जाना जरूरी है ? रोपर [सिर हिला कर ] नहीं। बार्थिविक [ ज़रा शान्तचित्त होकर ] सचमुच रोपर जी हाँ! वार्थिविक लेकिन आप तो जायगे? रोपर जी हाँ!