पृष्ठ:चाँदी की डिबिया.djvu/९९

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


दृश्य ] चांदी की डिबिया मिसेज़ जोन्स मैं यह चाहती है, कि तुम इस तरह मेरे पीछे पीछे न लगे रहा करी । मेरे पीछे लगे रहते हो । तुम्हारा वहां घूमना उन्हें अच्छा नहीं लगता । उन लोगों को भी शक होता है। न जाने तुम क्यों जोन्स मेरा जहां जी चाहेगा, वहां जाऊँगा । आखिर कहां जाऊँ । उस दिन एजुवेयर रोड पर एक जगह गया । मैनेजर से बोला- हुजूर मुझे रख लीजिये; मुझे दो महीने से कोई काम नहीं मिला; बिना काम किए अब रहा नहीं जाता । मैं काम करनेवाला श्रादमी हूं। आप जो काम! चाहे मुझे दें। मैं किसी काम से नहीं डरता। "भले आदमी, सुबह से इस वक्त तक ३० श्रादमी पा चुके हैं । मैंने पहले दो श्रादमी ले लिये । इससे उसने कहा, ९१