पृष्ठ:जायसी ग्रंथावली.djvu/१५

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


बंतव्य (द्वितीय संस्करण ) थम संस्करण में इधर उधर जो कुछ अशुद्धियाँ या रह गई थीं वे इस संस्करण में, जहां तक हो सका है, दूर कर दो गई हैं । इसके अतिरिस जायस के ‘म औोर सिद्धांत' तथा 'रहस्यवाद' के अंतर्गत भी कुछ बातें ढाई गई हैं जिनसे, आशा है, जो कि मार्ग और भारत भक्ति मार्ग का स्वरूप द समझने में कुछ अधिक ायता पहें गो । इधर मेरे प्रिय शिप ऐ० घंत्र को पडेप एम० ए, जो दो के फो कधियों के संघ में अनुतधान कर रहे हैं, जास गए और भनि न डEद को कुछ बातों का पता लगा लाए । उन को खोज के मार जयस का जो न त' भो नए रूप में दिया गया है जिसके लिये उनके प्रति भनो कृतज्ञता प्रकट करता में प्रावश्यक समझता हूँ । इत में या तो के श्र थम संस्करण में जो सो के दो ां थ -‘‘पदमावत' और ‘ा व विद--ही थे । ड का एक औोर मंथ ‘अ िसे कलाम फारसी लिषि में वह पुरा छछा हूं । हाल में मि ा। । यह ग्रंथ भो इस संस्करण में सम्मिलित कर । लिया गया है । कोई कोर कसरो प्रति न मिलने के कारण इसका ठोक रोक पाठ नित्रि चत करने में धड़ो कठिाता पड़ी है। एक तो इसको भाषा ‘दाव' ऑोर वरटको अमरीक्षा यधिक मोर बोरा चीन को , दूसरे का रसो क्ष में लि वो हुई । बड़े परिश्रम से कि कार में ने इस का पाठ ठो के किया है, फिर भो इधर उधर कुछ भु ने रइ जाने को आशंका से मैं पूरी नहीं हैं । 8ो : जयतो के और दो ग्रंथयों को अपेक्षा इत को रखना बहुत जिम्न कोटेि को है । इसमें इस नाम को म हो कितवों के अनुसार कथात के दिनों का लंबा चौडा वह है । किस प्रकार ज त प्रलय होगा, बहुत निकट आार थ्बों को तपएगा सारे जीव जंतु और फरिश्ते भी अपना जीवन समाप्त करेंगे, ईश्वर न्याय करने बैठेगा और अपने अपराधों के करंण सारे प्राणी थ रंथर करोगे, इन्हीं सव बातों का योरा इस छोटी सो पुस्तक में है। जायमी ने दिखाया है कि ईसा, मूसा | आदि नौर सब पैगंबरों को तो आप आपको पड़ी रहो, वे अपने अपने आासनों पर रक्षित स्थान में चुपचाप बैठे रहेंगे, पर परम दयालु हजरत मुहम्मद साहब अपने अनुयायियों के उद्धार के लिये उस शरीर को जलानेवाली धूप में इधर उधर ब्याबुल मते दिखाई देंगेएक क्षण के लिये भो कहीं छाया में न बैठेगे । सबसे अधिक ध्यान देने को बात इमाम हसन सैन के प्रति जायसी को सहनुभूति है। उन्होंने लिखा है कि जब तक हसन हुसैन को अन्यायपूर्वक मारनेवालें और कटबैंनेवाले