पृष्ठ:राबिन्सन-क्रूसो.djvu/३०८

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है
२८५
क्रूसो के अनुपस्थित-समय का इतिहास।

नौकर का काम लेने लगे। इस निर्जन द्वीप में यही तीन नौकर उन लोगों के प्रधान आश्रयवर्ती थे। वे सभी लोगों के लिए आहार का संग्रह करते और यथासाध्य हर एक काम में अपने पालकों को मदद देते थे।

विवाह के समय उन लोगों में किसी तरह का कुछ अस- मश्र्ज्स न हुआ। पहले किसका ब्याह हो? इसका निश्चय इस प्रकार हुआ कि तीनों के नाम काग़ज़ के तीन टुकड़ों पर लिखे गये। तीन टुकड़े मोड़ कर एक जगह रक्खे गये। एक व्यक्ति ने आँँख मूँँद कर उनमें से एक टुकड़ा उठा लिया। उस टुकड़े में जिसका नाम निकला उसीका पहले ब्याह हुआ। उसने उन स्त्रियों में जिसे पसन्द किया उसे अपनी अर्धाङ्गिनी बनाया। आश्चर्य का विषय यह है कि जिस व्यक्ति ने पहिले ब्याह किया था उसने उन स्त्रियों में जो सब से पुरानी थी उसीको पसन्द किया। मालूम होता है, उन स्त्रियों में वही प्रधान थी। दूसरी बार जिसका नाम निकला उसने अधेड़ स्त्री को लिया। तीसरे व्यक्ति ने नवयुवती का पाणिग्रहण किया। मेरे जहाज़ के दो अँँगरेज़-नाविक और इस द्वीप में रहते थे। उन्हेंने अन्य दो स्त्रियों के ब्याह कर लिया।

स्त्रियों ने जब देखा कि एक एक व्यक्ति घर में आता है और क्रमशः एक एक स्त्री के लिये जाता है तब उन्होंने निश्चय किया कि इस बार हमारी जान न बचेगी। तीसरे व्यक्ति ने जब जा कर युवती का हाथ पकड़ा तब सभी औरतें आर्तस्वर से चिल्ला उठीं, और उस युवती के बदन से लिपट गई। सभी ने उसके गले लगा कर इस करुणभाव से उससे बिंदा माँगी, जिसे देख कर मनुष्य की ते कुछ बात ही नहीं