पृष्ठ:राबिन्सन-क्रूसो.djvu/३१७

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


२९४ राबिन्सन क्रूसो । । यदि वे किसी तरह जर्केल के भीतर की गुफा का पता पा लें तो एकदम सर्वनाश हो सकता है । इसलिए उनको रोक देना चाहिए । वे दोनों असभ्य बहुत दूर पर दिखाई दिये । पर वे गुफा क तरफ़ नहीं, उसकी प्रतिकूल दिशा में अर्थात् समुद्र की ओर रहे थे । यह देख कर गरेज़ निश्चिन्त हो उस पेड़ के नीचे लौट आये जहाँ वह बन्दी असभ्य था। वहाँ आकर देखा रस्सी पड़ी है, बन्दी का कहीं पता नहीं । अँगरेजों ने समझा कि उसके साथी बन्धन खोल कर उसे ले गये होंगे। अब वे दोनों किंकर्तव्यविमूढ़ हो खड़े रहे । क्या करें किधर जाचंकुछ निश्चय न कर सकते थे। आखिर उन्होंने अपनी स्त्रियों के पास गुफा में जाने ही का निश्चय किया । गुफा के भीतर जा करके देखा, सभी सुखचैन से हैं, केवल स्त्रियाँ बहुत भयभीत हो रही हैं । आक्रमणकारी उनके स्व देशी हैं फिर भी उनके भय की सीमा नहींवे बेहद डर रही हैं। कारण यह कि वे आक्रमणकारियों के स्वभाव से भली भाँति परिचित थीं । असभ्य लोग गुफा क बिलकुल समीप आकर लौट गये हैं । घने पेड़ों की आड़ होने के कारण उन्हें गुफा देख न पड़ीइसीसे इधर वे लोग न आये । आते तो भारी उपद्रव मचाते । असभ्य के आने की ख़बर पा कर सात व्यक्ति स्पेनियर्ड अँगरेजों की सहायता के लिएआये । यह देख कर अँगरेजों को धैर्य हुआ और उनका साहस बढ़ गया । अन्य दस व्यक्ति स्पेनियर्ड और फ्राइडे का पिता किले के समीपवर्ती खेत-खलि हान की रक्षा के लिए पहरे पर रहे । किन्तु सभ्य उधर भूल कर भी नहीं गये । सात स्पेनियों के साथ अँग्रेज़ों का वह के