पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष एकविंश भाग.djvu/६०२

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


".." क.चात '. विलम्धिन्–विलायतो कीकर विलम्यिन् (स' त्रि०) १ विलम्वकारी, देर करनेवाला । विलाता ( सं० स्त्री०) एक प्रकारको चिड़िया। . . : विशेषेण लम्वते इति वि-लम्ब-णिनि । २ लम्बमान, लर. विलाना (हि. क्रि० ) विताना देखो। कप्ता हुमा । (क्लो०) ३ प्रभवादि साठ संवत्सरेमिसे ३२वां विलाप (सं० पु. ) वि-लप घन । १ अनुशोचन, परि. संवत्सर। देवन। २ दुःखजनक.वात ।, विलम्भ (स'० पु०) विल्लभ-धम् नुम् । १ अतिसर्जन, विलापन (सं० ० ) वि.लए ल्युट । १ विलाप, विलख अत्यन्त दान । २ उदारता। ३ उपहार, भेटे। बिलख कर या विकल, हो कर रोनेको क्रिया, मात्तेनाद । बिलय (स' पु०).विशेषेण लीयन्ते पदार्था अस्मिन्निति । विलो-णिच ल्युट । योभाय, गलना। .. वि-लो-अच (एरच । पा ३३।५।६) १ प्रलय । २ विनाश । विलापना (हि.कि०) १ शोक करना, विलाप करना। - ३ मृत्य। ४ विलीन होनेको क्रिया या भाष, लाप, २ वृक्ष रोपना या लगाना। शाम्त । ५ विलापन। विलापिन् (सं०नि०) विलप णिनि । विलापकारी, विलयन (सं० वि०) १ लयविशिष्ट, लयको प्राप्त होना । मार्त्तनाद करनेवाला। (क्लो० ) २ दूरीकरण, अलग करना । ३ पिनाशन, विलायक (स' नि.) वि-ली-णिच् ण्युल । १ द्रपकारक, . नाश। साकारक। २ लयकारक, लीनताकारक । .. चिलला ( सं० लो०) श्वेतवला, मफेद सुगंधवाला। मनमोऽसि विलायक (शुक्लयजुः २०१४) विलवर-आदिम जातिविशेष । | 'मनसो विलायकश्वासि विलाययति विषयेभ्यो नियत्या. . विलवास (सं० पु०) विले पासो यस्य। जादकं जन्तु, मनि स्थापयति विलायका मात्मशानप्रदोऽसीत्यर्थः या ' : विलमें रहनेवाला जानवर। लो श्लेपणे विलाययति चक्षुरादिभिः सह श्लेपयति । विलयासिन (सं० पु०) विले वसतीति यस.णिनि विलायका सन्द्रियैः सह श्लेषयति विलायका सव'. १ सर्प, सांप । (नि.)२ गतवासी, विलमें रहनेवाला, न्द्रियैः सह मना संयोजयतीत्यर्थः। (महीधर) विलशय (सं० पु०) पिले शेते विल-शी मच । १ सर्प। विलायत (.म० पु०) १ पराया देश, दूसरोंका देश। २ (त्रि.) २ विलवासी, मौदर्भ रहनेवाला। " दूरस्थ देश, दूरका देश, विशेषत: माजकलको पोल. .. विलसत् (सं० वि० ) विलस्-शत् । विलासयुक्त, घालमें यूरोप या अमेरिकाका कोई देश। विलासो। विलसन (सं० क्ली०) विलस्ल्यु ट । १ विलास, प्रमोद ।। . विलायती (म० वि० ) १ विलायतका, विदेशो । २ अन्य देशका रहनेवाला, परदेशी । ३ दूसरे देशमे बना हुआ। २ चमकनेकी प्रिया । विलसर-युकप्रदेशके पटा जिलान्तर्गत एक नगर । मुसल |, विलायती अनन्नास (हि० पु०) रामयांस, रामदान । मबास देखो। मानी इतिहासमें यह विलसन्द वा तिलसन्द' नामसे परिनित है। यहां अनेकः बौद्धमठ और फुमारगुप्तके विलायती कह (हि पुं०) एक विशेष प्रकारका कई स्तम्भ तथा. मन्दिरादिके स्मृतिचिह्न विद्यमान है। . जो तरकारीके काममें आता है। , , विलक्ष्वंदो . (हिं० स्त्री०) 'जिलेका पन्दोवस्तका संक्षिप्त विलायती कासनी..(हि स्त्री०) एक प्रकारको कासनी . स्पोरा । इसमें प्रत्येक महालका नाम, काश्तकारों के नाम | जिसकी पत्तियो दवाफे काममें लाती है। और उनके लगान आदिका ध्योरा लिषा होता है।... | विलायती कोकर (हि. पु०) पहाड़ी कीकर जो हिमालय विलहर-मध्यप्रदेशके में पांच हजार फुटको ऊंचाई तक होता है। यह पाट इसका प्राचीन नाम लोगाने के काम में आता है। जाड़े के दिनों में यह खूब मन्दिरादिका ध्वंसावशेष फूलता है और इसके फूलोंसे बहुत अच्छी महक निकलती विलहरिया फूलोंसे कई प्रकारके इन आदि बनाये •सी बबूल भी कहते हैं। . यहाँ ......